PM Modi ने बुलाई बैठक, फिर लग सकता है लॉकडाउन ?

mp news now

नई दिल्ली। देश में फिर से बढ़ते कोरोना वायरस (Corona virus) के मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई है। खबरों के मुताबिक यह बैठक 8 अप्रैल को हो सकती है। खबरों के मुताबिक केंद्र सरकार कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक के लिए कड़े फैसले ले सकती है।

कई राज्य पहले से ही लॉकडाउन (Lockdown) जैसे प्रतिबंध लगा चुके हैं। कोरोना (Corona) से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र (Maharashtra)

Advertisement
ने सोमवार से कई पाबंदियां लागू की हैं जिनमें नाइट कर्फ्यू से लेकर वीकेंड लॉकडाउन तक शामिल है। इसे देखते हुए बैठक में राज्यों से आए सुझाव के आधार पर कोरोना को फिर बढ़ने से रोकने की रणनीति बनेगी। यह वचुर्अल बैठक होगी। कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच लोगों की लापरवाही लगातार सामने आ रही है। इस बात के कयास भी लगाए जा रहे हैं कि कहीं देशवासियों फिर से लॉकडाउन जैसे बड़े फैसले का सामना न करना पड़े।

यह भी पढ़ें – Mp News: NHM MP ने कहा, 45 साल से कम उम्र के व्यक्ति को वैक्सीन लगाई तो होगी कार्रवाई

देश में पिछले एक हफ्ते से कोरोना (Corona) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। देश में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 (Covid-19) के 1,03,558 नए मामलों में से 81.90 प्रतिशत महाराष्ट्र (Maharashtra), छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh), कर्नाटक (Karnataka), उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), दिल्ली (Delhi), तमिलनाडु (Tamil Nadu), मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) और पंजाब (Punjab) से हैं, जहां संक्रमण (Infection) के मामलों में तेजी से बढ़ोतारी दर्ज की जा रही है।

सूत्रों के मुताबिक देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 अप्रैल को मुख्यमंत्रियों की वर्चुअल बैठक बुलाई है। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री का यह संवाद गुरुवार शाम साढ़े 6 बजे निर्धारित है। इस दौरान मुख्यमंत्रियों से कोरोना के प्रभावी प्रबंधन और वैक्सीनेशन पर भी चर्चा होगी।

यह भी पढ़ें – Indore Corona Update: इंदौर शहर में 50 से ज्यादा पुलिसकर्मी की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

यह पहली बार नहीं है जब पीएम मोदी (PM Modi) ने मुख्यमंत्रियों (Chief Ministers) की बैठक बुलाई है। इससे पहले उन्होंने 17 मार्च को भी एक बैठक की थी। प्रधानमंत्री इससे पहले भी कोरोना काल में कई बार मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉफ्रेंसिंग से चर्चा कर कोरोना महामारी की रोकथाम की रणनीति बना चुके हैं।

ताजा मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि के मद्देनजर प्रधानमंत्री रविवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की थी और इसमें उन्होंने कहा था कि कोविड-19 (Covid-19) के ताजा संक्रमण के दौर से निपटने के लिए राज्यों को कड़े और व्यापक कदम उठाने होंगे।


मुख्यमंत्रियों संग प्रधानमंत्री की बैठक के पहले मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) 11 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस संक्रमण (Corona virus infection) के मामलों में बढ़ोतरी की समीक्षा करेंगे। इन 11 राज्यों में महाराष्ट्र (Maharashtra), छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh), दिल्ली (Delhi), गुजरात (Gujarat), हरियाणा (Haryana), हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh), झारखंड (Jharkhand), कर्नाटक (Karnataka), मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh), पंजाब (Punjab) और राजस्थान (Rajasthan) हैं।

यह भी पढ़ें – Mp News: Corona के बढ़ते खतरे को देखते हुए मध्य प्रदेश की महाराष्ट्र से लगी सीमाएं हुई सील

केंद्र सरकार ने भेजी 50 टीमें

कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में वृद्धि के चलते केंद्र ने 50 उच्चस्तरीय जन-स्वास्थ्य टीम गठित की हैं और इन्हें महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ तथा पंजाब के 50 जिलों में तैनात किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि इन टीमों को कोविड-19 संबंधी निगरानी, नियंत्रण एवं निषेध कदमों के तहत राज्य स्वास्थ्य विभाग तथा स्थानीय अधिकारियों की मदद करने के लिए महाराष्ट्र के 30 जिलों, छत्तीसगढ़ के 11 जिलों और पंजाब के 9 जिलों में भेजा जा रहा है।

दो सदस्यीय उच्चस्तरीय समिति में एक निदानविद/महामारी विशेषज्ञ और एक जन-स्वास्थ्य विशेषज्ञ शामिल हैं। मंत्रालय ने कहा कि ये टीम राज्यों का तत्काल दौरा करेंगी और समूचे कोविड-19 (Covid-19) प्रबंधन क्रियान्वयन की निगरानी करेंगी।

यह भी पढ़ें – Chhattisgarh News: Bijapur में पुलिस व नक्सलियों में हुई मुठभेड़, 18 से ज्यादा जवान लापता

केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और पंजाब के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। मंत्रालय ने कहा कि उच्चस्तरीय टीम इन तीनों राज्यों में नोडल अधिकारियों को रिपोर्ट करेंगी और उनके साथ समन्वय रखेंगी। ये टीम जांच, संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने, अस्पताल अवसंरचना, कोविड रोकथाम संबंधी व्यवहार और टीकाकरण सहित पांच पहलुओं पर रोजाना रिपोर्ट सौंपेंगी।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

यह भी पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *