Corona virus के बढ़ते केस को देखते हुए मंडला, पन्ना और देवास में Lockdown

corona

भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बेकाबू होते कोरोना संक्रमण (Corona infection) को देखते हुए सरकार लॉकडाउन (Lockdown) की तरफ बढ़ती दिखाई दे रही है। सरकार ने हालांकि, इसके आधिकारिक आदेश तो नहीं निकाले हैं, लेकिन जिस तरह धीरे-धीरे जिलेवार लॉकडाउन लगाया जा रहा है, उससे ऐसा होते हुए ही दिख रहा है। सरकार ने रविवार को पन्ना में 15 अप्रैल को सुबह 6 बजे तक, जबकि मंडला और देवास जिलों में 19 अप्रैल को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी।

बता दें, सरकार ने 1 दिन पहले ही 11 जिलों में 9 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया था। यह लॉकडाउन शाजापुर छिंदवाड़ा (Shajapur Chhindwara), कटनी (Katni), रतलाम (Ratlam), बैतूल (Betul), खरगोन (Khargone), सिवनी (Seoni), बड़वानी (Barwani), राजगढ़ (Rajgarh), बालाघाट (Balaghat), विदिशा (Vidisha) और नरसिंहपुर (Narsinghpur) में लगाया गया। इन जिलों को पूरी तरह से बंद करने का फैसला आपदा प्रबंध समिति और मंत्रिमंडल के सदस्यों की हुई बैठक के बाद लिया गया। सरकार इंदौर (Indore) के साथ राऊ (Rau), महू (Mhow), शाहजहांपुर (Shahjahanpur) और उज्जैन (Ujjain) के शहरी क्षेत्रों में 19 अप्रैल की सुबह तक लॉकडाउन का फैसला ले चुकी है। यह सभी पहले 12 अप्रैल की सुबह 6:00 बजे खुलने वाले थे। बड़वानी, राजगढ़, विदिशा जिले में भी 19 अप्रैल की सुबह तक लॉकडाउन को बढ़ाया गया है।

यह भी पढ़ें – Ujjain: चाकू से किया आदमी पर हमला, पड़ोसी ने नहीं की मदद

इधर, कोरोना संक्रमण (Corona infection) तेजी के साथ प्रदेश में अपने पैर पसारता जा रहा है। बीते 1 हफ्ते में कोरोना एक्टिव केस की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है। प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 32 हजार के पार पहुंच गई है। प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट बढ़ कर 12.1 फीसदी हो गया है। 1 हफ्ते में पांच हजार से ज्यादा केस बढ़े हैं। प्रदेश में इंदौर सबसे ज्यादा संक्रमित होकर एक नंबर पर है, जबकि भोपाल दूसरे नंबर पर है।

प्रदेश में कोरोना वायरस (Corona virus) की रोकथाम के लिए सरकार ने 104 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं। इस लिहाज से हर एक जिले को दो करोड़ की राशि मिलेगी। इस राशि से कलेक्टर तात्कालिक रूप से कोरोना वायरस से निपटने के लिए जरूरी व्यवस्थाएं कर सकेंगे।

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सुझावों पर लगातार कार्यवाही की जा रही है। साथ ही सरकार ने अब यह तय किया है कि जिलों के हालातों के मुताबिक ही फैसले लिए जाएंगे। सरकार ने मंत्रियों को भी जिलों के प्रभार सौपें हैं, जो कोरोना वायरस (Corona virus) में व्यवस्थाओं पर नजर रखने का काम करेंगे।

यह भी पढ़ें – MP News: छात्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी अपनी अधूरी लव स्टोरी, पुलिस पर आरोप

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

यह भी पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published.