UP News: आगरा में 2 भाइयों का झगड़ा सुलझाने गई पुलिस को मारी गोली, मौके पर मौत

UP NEWS

आगरा। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) (UP) के थाना खंदौली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार देर रात भाइयों के बीच हो रहे विवाद की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम पर हुए हमले में दरोगा प्रशांत की मृत्यु की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए परिवार की हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया है।

पुलिस को कड़े निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आरोपी पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। आगरा में पुलिस पर हुए हमले के दौरान हमले में दरोगा प्रशांत की मृत्यु की जानकारी होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) ने ट्विटर के माध्यम से बयान जारी करते हुए कहा है कि जनपद आगरा की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में सब इंस्पेक्टर प्रशांत यादव जी के निधन का समाचार अत्यंत दुःखद है।

यह भी पढ़ें – CMAT Admit Card 2021: Common Admission Test Admit Card जारी, लिंक से करें डाउनलोड

दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं और दुःख की इस घड़ी में सरकार द्वारा उन्हें हरसंभव सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। घटनास्थल पर पहुंचे आगरा एडीजी जोन राजीव कृष्ण ने घटनास्थल का निरीक्षण करते हुए पत्रकारों को बताया कि उत्तरप्रदेश सरकार (Government of UP) की तरफ से शहीद दारोगा प्रशांत यादव के आश्रित स्वजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। परिवार के किसी एक सदस्य को सरकारी सेवा में लिया जाएगा और मृतक दारोगा को शहीद का दर्जा देते हुए उसके पैतृक गांव की सड़क का नाम शहीद के नाम पर रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें – Bank of Baroda में सुपरवाइजर की भर्ती के लिए निकली जगह, करे आवेदन

गौरतलब है कि बुधवार की देर रात आगरा के थाना खंदौली पुलिस को गांव नहर्रा में विश्वनाथ की अपने भाई शिवनाथ से आलू के बंटवारे को लेकर विवाद की सूचना मिली थी। दारोगा प्रशांत, सिपाही चंद्रसेन व एक अन्य सिपाही के साथ गांव पहुंचे थे। लेकिन इस दौरान विश्वनाथ गांववालों को भी तमंचे से धमका रहा था। दरोगा प्रशांत ने विश्वनाथ को रोकने का प्रयास किया, लेकिन विश्वनाथ ने दरोगा प्रशांत की एक भी बात में सुनी और सीधे दरोगा प्रशांत के पर गोली चला दी।

यह भी पढ़ें – इंस्पेक्टर की पत्नी का 13 साल तक यौन प्रताड़ना किया, FIR दर्ज के लिए छोड़नी पड़ी नौकरी

गोली लगते ही दरोगा प्रशांत जमीन पर गिर पड़े और ये देख जब सिपाही विश्वनाथ को पकड़ने के लिए बढ़े तो विश्वनाथ ने सिपाहियों पर भी गोली चला दी और मौके से फरार हो गया। थोड़ी देर के बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारियों के साथ भारी पुलिस फोर्स भी पहुंच गया और लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़े दरोगा प्रशांत को तत्काल खंदौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

यह भी पढ़ें – Covid-19 : कुछ राज्यों में सार्वजनिक तौर पर होली मनाने पर रोक

डॉक्टरों ने दरोगा प्रशांत को मृत घोषित कर दिया। दरोगा प्रशांत की मौत की जानकारी मिलते ही मौके पर एडीजी राजीव कृष्ण व एसएसपी बबलू कुमार मौके पर पहुंचे थे।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *