Thailand Call Girl Death : पुलिस जांच में बड़ा खुलासा, लखनऊ के 50 नेता और कारोबारी घेरे में

 

Thailand Call Girl Death : पुलिस जांच में बड़ा खुलासा, लखनऊ के 50 नेता और कारोबारी घेरे में
कॉल गर्ल की कोरोना से मौत (प्रतीकात्मक फोटो)

 

लखनऊ में थाईलैंड की कॉल गर्ल की मौत (Thailand Call Girl Death) के मामलें में पुलिस (Lucknow Police) ने रविवार को जांच शुरू होने की जानकारी दी थी. इसके बाद अब जांच में बड़े-बड़े खुलासे हो रहे हैं. पुलिस जांच में अबतक पता चला है कि महिला तीन साल से लखनऊ आ रही थी. पुलिस ने मामले में अबतक 50 से ज्यादा मोबाइल नबंरों की पहचान की है. जानकारी के मुताबिक महिला शहर के एक बड़े स्पा सेंटर (Spa Center) में काम करती थी. सूत्रों की माने तो लॉकडाउन में भी लखनऊ के बड़े नेता और कारोबारी मसाज कराते थे. बड़े लोगों के जुड़े होने की वजह से पुलिस अब मामले में सावधानी के साथ जांच कर रही है.

 

जांच टीम की अध्यक्षता कर रह डीसीपी संजीव सुमन ने बताया कि थाईलैंड से आई महिला एजेंट के जरिए 2019 में लखनऊ आई थी. इसके बाद वो सलमान के संपर्क में आई. सलमान एक स्पा सेंटर में मैनेजर है. वहीं महिला हुसैनगंज के होटल गोल्डन ट्यूलिप के पास एक कमरे में किराए पर रहती थी. डीसीपी ने बताया कि लड़की की तबीयत 23 अप्रैल को बिगड़गी शुरू हुई इसके बाद 28 अप्रैल को उसे लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया. यहां 3 मई को कोरोना से उसकी मौत हो गई. अब तक जांच में सासंद संजय सेट के बेटे का मामले में कोई कनेक्शन सामने नहीं आया है. पुलिस मामले में सोशल मीडिया के जरिए भी जांच कर रही है.

 

ऐसे सामने आया मामला

मामला तब सामने आया जब कुछ विपक्षी नेताओं ने आरोप लगाए कि महिला को बीजेपी सांसद संजय सेठ के बेटे ने भारत बुलाया था. मामले में समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह और बीजेपी सांसद संजय सिंह के बीच बहस के बीच रविवार को लखनऊ पुलिस ने मामले की जांच शुरु की . सपा नेता आईपी सिंह ने ट्विटर पर मामले में सीबीआई जांच की मांग की है.

 

ये भी पढ़ें : ओडिशा कैबिनेट ने Covid -19 टीकों की खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर को दी मंजूरी, 10 हजार से ज्यादा मामले आ रहे हैं सामने

 

सपा नेता आईपी सिंह ने लगाए आरोप

उन्होंने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री के साथ खड़े होकर मुस्कुरा रहे भाजपा सांसद संजय सेठ के सुपुत्र पर गंभीर आरोप हैं. दुनिया भर में चल रही महात्रासदी के बीच थाईलैंड से एक काल गर्ल बुलाई गई, जिसकी अब कोरोना से मौत हो गई है. क्या यूपी पुलिस में हिम्मत है कार्यवाही करने की? जांच करने की? एक अन्य ट्वीट में आईपी सिंह ने कहा लखनऊ पुलिस ने थाईलैंड से बुलाई गई कॉल गर्ल की मृत्यु पर अब तक आधिकारिक बयान क्यूं नहीं जारी किया? क्या लड़की के शव का पोस्टमार्टम हुआ? ये ‘शिवम कुक’ कौन है जिसे डेड बॉडी हैंडल की गई? इसकी जान पर ख़तरा है? राकेश शर्मा लोकल हैंडलर कहां ग़ायब है? एजेंट सलमान कहां है? उन्होंने मामले में सीबीआई जांच की भी मांग की है.

 

सांसद संजय सेठ ने कहा- बदनाम करने की साजिश

यूपी पुलिस के बयान पर आईपी सिंह ने कहा कि घटना के एक हफ्ते बाद मात्र 4 लाइन का बयान जारी किया गया है. यह एक अंतरराष्ट्रीय मामला है, इसी गंभीरता को समझते हुए उच्चस्तरीय जांच CBI के नेतृत्व में ही होनी चाहिए. लड़की जहां ठहरी उस होटल की CCTV वीडियो जारी की जाए. वहीं सांसद संजय सेठ ने मामले में कहा कि मेरे व मेरे परिवार को बदनाम करने के लिए जो पूर्णतः अस्तय व भ्रामक खबरे चलाई जा रही है, इससे मेरा व मेरे परिवार का कोई लेना देना नहीं है. उसके संबंध में अभी पुलिस आयुक्त को सूचित किया है, जिसमे उन्होंने संज्ञान लेते हुए जांच करा कर अवगत कराने का आश्वासन दिया है.

 

ये भी पढ़ें : वैक्सीन पर भारत के इस प्रस्ताव के समर्थन में WHO, चीफ साइंटिस्ट ने कहा- ‘ये मुनाफे के बारे में सोचने का वक्त नहीं’

 

 

 

 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *