Mp News: Mahakal मंदिर में भक्तों को नहीं मिलेगा प्रवेश

Mahakal

उज्जैन। रंगपंचमी पर बृज के जैसे रंगों में रंगने वाला महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) इस बार कोरोना संक्रमण (Corona infection) की वजह से बेरंग रहा। हालांकि, महाकाल ने भस्म आरती के दौरान पंडे-पुजारियो के साथ जमकर रंगपंचमी मनाई। पंडे-पुजारियों ने टेसू के फूलों को गर्म करके केसर मिलाकर रंग बनाया और महालाक को चढ़ाया। इस दौरान भगवान महाकाल का गर्भ गृह रंगों से सराबोर हो गया।

त्योहार की शुरुआत अल सुबह होने वाली भस्म आरती से हुई। सबसे पहले बाबा महाकाल की भस्म आरती में पंचामृत अभिषेक पूजन किया गया। मंत्रोच्चारण के साथ भस्म चढ़ी और फिर बाबा महाकाल को रंग लगाए गए। गौरतलब है कि हर साल रंगपंचमी के अवसर पर बाबा महाकाल के साथ होली खेलने के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ती है। लेकिन इस बार संक्रमण के चलते प्रशासने सख्ती की। मंदिर में आदेश जारी कर दिए गए थे कि भस्म आरती में भक्त भी नहीं होंगे। इसके अलावा पण्डे-पुजारी भी आपस में रंग नहीं लगाएंगे।

यह भी पढ़ें – COVID-19: Actress Alia Bhatt हुई कोरोना पॉजिटिव

भक्तों को नहीं मिला प्रवेश

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 2546 नए केस मिले। सितंबर 2020 के बाद से यह अब तक की सबसे ज्यादा संख्या है। फिलहाल मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona infection) के 18,057 एक्टिव केस हैं। नमूनों के पॉजिटिव पाए जाने की दर बढ़कर 9.9% फीसदी हो चुकी है। मेडिकल एजुकेशन डिपार्टमेंट (Medical Education Department) के मंत्री विश्वास सारंग ने कहा, ”कोरोना मरीजों के लिए राज्य में बेड्स की संख्या बढ़ा दी गई है। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के लिए सख्ती की जा रही है। सरकार संपूर्ण लॉकडाउन के पक्ष में नहीं है, इसलिए लोगों को कोवड-19 की गाइडलाइन फॉलो करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

सरकार ने खरगोन (Khargone), रतलाम (Ratlam) और बैतूल (Betul) में दो दिनों के लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा कर दी है, जबकि छिंदवाड़ा (Chhindwara) में लॉकडाउन की यह अवधि तीन दिन होगी। डिजास्टर मैनेजमेंट कमेटी (Disaster Management Committee) ने यह फैसला गुरुवार को किया. रतलाम, खरगोन और बैतूल में शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहेगा, जबकि छिंदवाड़ा में गुरुवार आधी रात से लेकर सोमवार सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रहेगा। इस लॉकडाउन से अनिवार्य सेवाओं को मुक्त रखा गया है।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

यह भी पढ़ें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *