चाइल्ड पोर्नोग्राफी और यौन उत्पीड़न के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, देश में 77 ठिकानों पर CBI ने मरे छापे

चाइल्ड पोर्नोग्राफी और यौन उत्पीड़न के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, देश में 77 ठिकानों पर CBI ने मरे छापे

डबरा। ऑनलाइन चाइल्ड पोनोग्राफी (Online Child Pornography) और यौन उत्पीड़न (Sexual Harassment) के खिलाफ सीबीआई (CBI) ने मंगलवार को मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) सहित 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 77 ठिकानों पर छापेमारी की। एजेंसी ने ऑनलाइन बाल यौन शोषण और उत्पीड़न में कथित रूप से लिप्त 83 लोगों के खिलाफ सोमवार को 23 अलग-अलग केस दर्ज किए थे।

ये लोग दिल्ली के अलावा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh), पंजाब (Punjab), बिहार (Bihar), राजस्थान (Rajasthan), महाराष्ट्र (Maharashtra), गुजरात (Gujarat), हरियाणा (Haryana), छत्तीसगढ़ (Haryana), मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh), हिमाचल (Himachal) से हैं।

इसे भी पढ़ें :- Good News: रेलगाड़ियों के जनरल कोच में लगेगा एसी, जल्द होगी शुरुआत

डबरा से एक युवक गिरफ्तार

मप्र में डबरा के अकबई गांव में सुबह सीबीआई (CBI) टीम ने दबिश दी। यहां से राहुल राणा नामक युवक को पकड़ा है। उसके परिवार वालों से भी पूछताछ की गई। आरोप है कि भारत और विभिन्न देशों के लोगों के अलग-अलग सिंडिकेट सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से बाल यौन शोषण सामग्री (सीएसईएम) | प्रसारित करने, संग्रहीत करने और देखने में लिप्त थे। ये लोग सोशल मीडिया समूहों /प्लेटफॉर्मों पर ऐसी सामग्री की लिंक, वीडियो, फोटो भेज रहे थे। सीबीआई (CBI) के मुताबिक, छापेमारी में मोबाइल, लैपटॉप समेत कई गैजेट जब्त किए हैं।

छापे के दौरान पता चला कि कई लोग बाल यौन शोषण सामग्री बेच भी रहे थे। जानकारी के मुताबिक ऐसे 50 से अधिक ग्रुप्स से 5000 लोग बाल यौन शोषण सामग्री का आदान-प्रदान कर रहे थे। इन ग्रुप्स से कई विदेशी लोग भी जुड़े थे। विभिन्न महाद्वीपों के 100 देशों के नागरिकों तक इन लोगों का नेटवर्क फैला हुआ था। सीबीआई (CBI) औपचारिक और अनौपचारिक चैनल के जरिए विभिन्न एजेंसियों की मदद ले रही है।

इसे भी पढ़ें :- Cryptocurrency: भारत जैसे कई देशों की जीडीपी से आगे निकली क्रिप्टोकरेंसी

बच्चों के खिलाफ सायबर क्राइम के मामले 400% बढ़े

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (National Crime Record Bureau) के ताजा आंकड़ों के मुताबिक देशभर में बच्चों के खिलाफ सायबर क्राइम 2019 की तुलना में 2020 में 400% से ज्यादा बढ़े हैं। सबसे ज्यादा मामले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 170, महाराष्ट्र (Maharashtra) में 123, कर्नाटक (Karnataka) में 122 और केरल (Kerala) में 101 दर्ज किए गए। ओडिशा (Odisha) में 71, तमिलनाडु (Tamil Nadu) में 28, असम (Assam) में 21, मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 20, हिमाचल (Himachal) में 17 केस दर्ज हुए।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.