Chief Minister Shivraj Singh Chouhan

Vidisha accident: CM Shivraj Singh लगातार Live मॉनिटरिंग कर रहे

Chief Minister Shivraj Singh Chouhan

भोपाल। विदिशा जिले के गंजबासौदा (Ganjbasoda) में हुए हादसे की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं . शुक्रवार को सीएम ने मंत्रालय में बैठकर रेस्क्यू ऑपरेशन की Live मॉनिटरिंग की. मंत्रालय में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और तमाम आला अधिकारियों के बीच मुख्यमंत्री घटनास्थल पर चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन की लाइव तस्वीरें देख रहे थे.

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आखिर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में यह कैसे संभव हुआ है कि किसी भी आपदा की Live मॉनिटरिंग सरकार भोपाल (Bhopal) में बैठकर कर सकती है. दरअसल, बीते हफ्ते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में राज्य स्तरीय सिचुएशन रूम और होमगार्ड मुख्यालय में स्थापित राज्य स्तरीय कंट्रोल एंड कमांड सेंटर का लोकार्पण किया था.

इसे भी पढ़ें :- WhatsApp ने एक महीने में लगाया 20 लाख अकाउंट पर ताला, जानें क्या हैं वजह…

यह दोनों सेंटर आपदा के वक्त किसी भी हालात से निपटने के लिए तैयार किए गए हैं. इस में बाढ़, भूकंप, आग, दुर्घटना समेत सभी प्रकार की आपदाओं की परिस्थिति शामिल है. राज्य स्तरीय सिचुएशन रूम को राज्य स्तरीय कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर तथा 52 जिलों के कन्ट्रोल एण्ड कमांड सेंटर्स से जोड़ा गया है.

आपदा से बचाव का नया नैटवर्क बनने के बाद इसमें आधुनिक तकनीक के उपयोग से आपदा के दौरान न केवल त्वरित बचाव व राहत कार्य हो सकता है, बल्कि रैस्क्यू ऑपरेशन की लाइव मॉनीटरिंग की जा सकती है. इसके अलावा विभिन्न धर्मस्थलों एवं मेला स्थलों की लाइव फीड भी सिचुएशन रूम तथा राज्य स्तरीय कन्ट्रोल कमाण्ड सेंटर को उपलब्ध होती है. इनमें आपदा की स्थिति होने पर बेहतर प्रबंधन राज्य स्तर से सुनिश्चित हो सकेगा.

इसे भी पढ़ें :- Vidisha News: विदिशा में 30 लोग कुएं में गिरे, 19 लोगों को सुरक्षित निकाला, 3 की मौत, ऑपरेशन जारी

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

राज्य स्तरीय सिचुएशन रूम तथा राज्य स्तरीय कन्ट्रोल कमाण्ड सेंटर में 1000 एमबीपीएस लीज्ड लाइन के ज़रिए अलग- अलग तरह के डाटाबेस जैसे बांधों का जलस्तर, बांधों के गेट खोलने की स्थिति, नदी गेज के जरिये नदियों का जल स्तर, मौसम विभाग का अपडेटेड डाटाबेस, डायल-100 तथा डायल-108 के एम्बुलेंस एवं वाहनों का रियल टाइम डाटाबेस, ट्रेफिक के 10,000 सी.सी.टी.वी. कैमरों की लाइव फीड, स्मार्ट सिटी के 500 कैमरों की लाइव फीड आदि प्राप्त होंगे. कुल 16 विभागों के लाइव फीड का उपयोग आपदा प्रबंधन में किए जाने की व्यवस्था है.

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *