Rewa: 25 प्रतिशत क्षमता में धड़क रहा था दिल, हाई रिस्क में ऑपरेशन कर निकाली 20 पथरियां

Rewa: 25 प्रतिशत क्षमता में धड़क रहा था दिल, हाई रिस्क में ऑपरेशन कर निकाली 20 पथरियां

रीवा। एक वर्ष से पेट दर्द की समस्या से परेशान महिला जब सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल (Super Specialty Hospital) पहुंची तो जांच कराई गई। जांच में पता चला कि उसका हृदय 25 प्रतिशत क्षमता में धड़क रहा था। हृदय रोग के साथ ही डायबिटीज से भी वह ग्रसित रही। पेट दर्द का कारण दाई किडनी में पथरी रही। ऑपरेशन करना खतरे से खाली नहीं था।

परिजन को पूरी स्थिति बताई गई। परिजन ने ऑपरेशन के लिए सहमति दी और चिकित्सकों ने पूरी तैया की दूरबीन पद्धति से यह ऑपरेशन तीन घंटे तक चला। किडनी से 20 पथरियां निकली। रीवा निवासी सुशीला 50 वर्ष का ऑपरेशन करने के लिए विशेष तैयारी की गई थी।

इसे भी पढ़ें :- Rewa News: आज से शुरू होने जा रही है जूनियर एथलेटिक्स प्रतियोगिता, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

जानकारी के अनुसार यूरोलॉजिस्ट डॉ. बृजेश तिवारी ने इस महिला का परीक्षण कर विभागाध्यक्ष डॉ. पुष्पेन्द्र शुक्ला को पूरी स्थिति से अवगत कराया। मरीज के परिजनों की सहमति मिलने पर एनेस्थेसिया विभाग के डॉक्टर्स से संपर्क करने के ऑपरेशन प्लान किया। इस महिला का शुक्रवार को ऑपरेशन किया गया था, जिसे अब अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

ऑपरेशन के दौरान हृदय की गति पर रखा ध्यान

इसे भी पढ़ें :- Rewa News: सुगम आवागमन के लिए निगम व ट्रैफिक पुलिस की टीम निरीक्षण पर निकली, कॉम्प्लेक्स के सामने की नाप-जोख

ऑपरेशन के दौरान एनेस्थेसिया विभाग के डॉक्टर्स द्वारा मरीज के हृदय की गति सामान्य बनाई रखी गयी। आपरेशन के बाद मरीज को एक दिन आईसीयू में ऑब्जरवेशन में रखा गया था। बताते है। कि रीवा शहर में हार्ट के हाई रिस्क मरीज में यह ऑपरेशन पहलीबार किया गया है। ऑपरेशन में मुख्य भूमिका डॉ. बृजेश तिवारी यूरोलोजिस्ट की रही। असिस्टेंट डॉ.मुशीर थे। मरीज के एनेस्थेसिया एवं हृदय गति को सुचारू रूप से बनाये। रखने में डा. आलोक सिंह एवं डॉ.सुभाष अग्रवाल की टीम का मुख्य योगदान रहा. जिसमें डॉ.लाल प्रवीण एवं डॉ.अंकित की भूमिका भी रही। टीम में नर्स अलवीना एवं संध्या भी शामिल रही।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.