MP: उमा भारती ने किया बड़ा ऐलान, 8 मार्च से शुरु होगा शराबबंदी अभियान

MP: उमा भारती ने किया बड़ा ऐलान, 8 मार्च से शुरु होगा शराबबंदी अभियान

MP: उमा भारती ने किया बड़ा ऐलान, 8 मार्च से शुरु होगा शराबबंदी अभियान

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में एक तरफ जहां सरकार नई शराब नीति लाने की तैयारी में हैं वहीं दूसरी तरफ शराबबंदी की मांग को लेकर प्रदेश की सियासत गर्माती नजर आ रही है। पूर्व सीएम और बीजेपी की दिग्गज नेता उमा भारती (Uma Bharti) ने एक बार फिर शराबबंदी को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उमा भारती ने कहा कि शराबबंदी की मांग को लेकर जल्द ही एक अभियान चलाया जाएगा । ये अभियान 8 मार्च को महिला दिवस के अवसर पर शुरु होगा।

यह भी पढ़ें – TMKOC से मशहूर एक्‍ट्रेस Nidhi Bhanushali ने शेयर की सोशल मीडिया पर तस्‍वीरें, होश उड़ा देगा निधि भानुशाली का अंदाज

शराबबंदी अभियान की तारीख का ऐलान

उमा भारती ने ट्वीट कर शराबबंदी की मांग करते हुए अभियान चलाने का ऐलान किया है। उमा भारती ने ट्विटर पर लिखा कि नशा मुक्ति अभियान के लिए मुझे मेरी सहयोग़ी मिल गयी है । “ख़ुशबू” नाम की यह युवती मध्यप्रदेश की है तथा वह उत्तराखंड़ में मेरे गंगा प्रवास में शामिल होने आयी थी । मैंने उसमें निष्ठा एवं साहस दोनो देखे तभी उसी समय उसका नाम “गंगा भारती” हो गया था।

यह भी पढ़ें – Sagar News: जिला अस्पताल में महिला ने छह माह के बच्चे चुरा, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

उमा भारती ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा कि मैंने गंगा को 8 मार्च 2021 को महिला दिवस पर शराब एवं नशमुक्ति अभियान प्रारम्भ करने की तैयारी करने के लिए कहा है। आगे का विवरण वह स्वयं आप सबको 5 दिन बाद बताएंगी।

बीजेपी शासित राज्यों में उठाई शराबबंदी की मांग

यह भी पढ़ें – Bigg Boss 10 के कंटेस्टेंट फेम स्वामी ओम ने ली अंतिम सांस

बता दें कि मध्यप्रदेश में जहरीली शराब से हुई लोगों की मौत के बाद उमा भारती ने न केवल मध्यप्रदेश बल्कि बीजेपी शासित सभी प्रदेशों में शराबबंदी की मांग उठाई थी। तब उमा भारती ने कहा था कि राजस्व का लालच और माफियाओं का दबाव शराबबंदी नहीं होने देता है। अगर देखा जाए तो सरकारी व्यवस्था ही लोगों को शराब पिलाने का प्रबंध करती है जैसे मां जिसकी जिम्मेदारी अपने बालक को पोषण करते हुए रक्षा करने की होती है वही मां अगर बच्चे को जहर पिला दे तो, सरकारी तंत्र के द्वारा शराब की दुकाने खोलना ऐसे ही है। तब उन्होंने ट्वीट कर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मांग की थी कि बीजेपी शासित सभी राज्यों में शराबबंदी की तैयारी की जाए। इतना ही उमा ने तब ये भी कहा था कि वो शराबबंदी के कारण होने वाले राजस्व के घाटे को पूरा करने के लिए भी सुझाव देने को तैयार हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *