Sidhi हादसे के बाद Rewa RTO मनीष त्रिपाठी पर लगाए सनसनीखेज आरोप

mp news

रीवा। प्रदेश सीधी (SIDHI) बस हादसे के बाद यहां एक और मुख्यमंत्री और मंत्री परिवहन विभाग के अधिकारियों से खासे नाराज हैं। वहीं दूसरी और आज शिवसेना पार्टी (Shiv Sena Party)

Advertisement
के नेताओं ने निवासियों मनीष त्रिपाठी (Manish Tripathi) के उपाय प्रचारक शिवसेना पार्टी ने रीवा कलेक्ट्रेट पहुंचकर आर्यों के खिलाफ व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर ज्ञापन सौंपा है। शिवसेना जिला प्रमुख श्री कृष्ण गुप्ता द्वारा बताया गया कि निर्वाचन कार्यालय। साथियों अधिकारी मनीष त्रिपाठी के द्वारा व्यापक पैमाने पर प्रचार किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने आरटीओ मणि त्रिपाठी करवाइए को तानाशाही से भरा हुआ बताया है। काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

यह भी पढ़ें – MP NEWS: डॉक्टर ने लड़की को प्यार के जाल में फसाकर की हत्या, कुत्ते के साथ दफनाया

आरटीओ (RTO) कार्यालय शासकीय कार्यालय ना हो का जैसे प्राइवेट कार्यालय हो गया है। स्वास्थ्य कर्मचारियों के अलावा बाहरी व्यक्तियों की अवैधानिक से आम जनता के प्रति जारी है। बस मालिकों द्वारा एक दो बसों का परमिट लेकर कई बच्चों का अवैधानिक रूप से संचालन किया जाता है जिसमें आज क्योंकि सुलभता को नकारा नहीं जा सकता है कि परिवहन कार्यालय के अधिकारियों द्वारा अपनी जिम्मेदारियों का सही निर्वहन नहीं किया जा रहा है जिससे रीवा नगर और रेल अवैध तरीके से बिना परमिट के बाहर दौड़ में दुर्घटनाएं हो रही है। शिवसेना नेताओं के द्वारा ज्ञापन सौंपते हुए कार्यवाही की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें – WhatsApp जल्द अपनी नई Privacy Policy अपडेट लाने वाला, जल्द होगी रोलआउट

श्री कृष्ण गुप्ता जिला अध्यक्ष शिवसेना

जिले के रिवाजों को ज्ञापन देने आई है। ज्ञापन का विषय है। रीवा क्षेत्र परिवहन कार्यालय में व्याप्त। भ्रष्टाचार और तानाशाही रवैया कंटिन्यू है। उनके द्वारा व्यापक स्तर पर अनियमितताएं यहां पर बढ़ती जा रही हैं। जिस कारण से आम जनमानस का कार्य काफी प्रभावित है। आम जनमानस दौराई आरोप लगाया गया है। हमारी सूचना या जानकारी आई है। खबर बस लेट कैसे आए हमारे पास इससे स्पष्ट है कि वहां पर प्राइवेट ही कारण हो रहा है। शासकीय विभाग है कि द्वापर प्राइवेट ही कान का बोलबाला वहां पर महिलाओं को लड़कियों को की शासकीय सुविधा में कार्य करने की वहां पर नियम बनाया गया। किंतु वह जो प्रथम व्यक्तियों द्वारा है और समय तक तो मैं कहूंगा, उनसे पैसा लेकर कार्य किया जा रहा है जो कि गलत है। वर्तमान टाइम में आ जाए। उनको शासन द्वारा उपकृत किया गया है। सीधी जिले का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है जबकि बसंत पंचमी की जनसंख्या घटी है।

यह भी पढ़ें – MP NEWS: महंगाई के विरोध में कांग्रेस का हाथ ठेले में बाइक रखकर फ्लैग मार्च

इसी तरह से लापरवाही पूर्ण तत्वों के कारण। बिना परमिट की बसे रीवा जिले में भी चल रही हैं और इस आसन में इनके खिलाफ कई तरह के पहले भी शिकायतें हैं कि इस आसन को पढ़कर सीधी का त्यौहार दिया जो कि न्याय संगत नहीं मानता हूं और निवेदन करूंगा। श्रीमान कलेक्टर महोदय जी से इसकी व्यापक स्तर पर सही जांच कराई जा कर लेती पर बड़ा अधिकारी खिलाफ अधिकारियों के खिलाफ भारत के खिलाफ उचित कार्रवाई का कि बिना परमिट जिले में गाड़ियां दौड़ रही है। आए दिन पेपर में समाचार बनकर निकलती रहती है। आप लोग मिल जा भाई इतनी सारी बातें उठाई जाती हैं। फिर भी उसमें कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। मैं कलेक्टर महोदय निवेदन करूंगा कि स्क्रीन पर जांच कराई जा कर तत्काल उचित कार्रवाई की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *