MP NEWS: ओवरलोड बस अनियंत्रित होकर पलट गई, क्षमता से दुगने यात्री थे

mp news

मंडला। सीधी बस हादसे में कई लोगों की जान जाने के बावजूद जिला परिवहन विभाग हाथ पर हाथ धरे बैठा है और जिले में ओवरलोड बसों की रफ्तार जस की तस है। न ही उन पर कोई कार्रवाई की जा रही है और न ही ओवरलोडिंग रोकी जा रही है। यही कारण है कि जिले में ओवरलोडिंग वाहनों के हादसों का सिलसिला लगातार जारी है। गुरूवार को बम्हनी थाना क्षेत्र अंतर्गत सिमरिया गांव के नजदीक एक ओवरलोड बस अनियंत्रित होकर पलट गई। बस क्रमांक एमपी 51 पी 0321 में क्षमता के दुगुने से भी अधिक सवारियों को बिठाया गया था।

यह भी पढ़ें – कई राज्यों में कोरोना वायरस फिर से बढ़ने लगा, शहर डेंजर जोन बनते जा रहे

नतीजा यह हुआ कि सिमरिया के नजदीक से बेलगाम भागती बस पर से चालक का नियंत्रण हट गया और बस लहराते हुए पलट गई। हादसे के साथ ही पूरे बस में यात्रियों की चीख पुकार मच गई और वे दुर्घटनाग्रस्त बस से बाहर आने के लिए छटपटाने लगे। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जब यात्रियों को बस से बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं सूझा तो बस वाहन के सामने का शीशा तोड़ा गया और वहां से बस में सवार यात्रियों को बाहर निकाला गया। हालांकि इस दुर्घटना के दौरान किसी भी यात्री को गंभीर चोटेंं नहीं आईं।

यह भी पढ़ें – MP NEWS: MP में 100 के पार पेट्रोल के दाम, जानें अपने शहर का दाम

30 सीटर बस में 70 से अधिक सवार

जिला परिवहन कार्यालय की जानकारी के अनुसार, बस क्रमांक एमपी 51 पी 0321 का रजिस्ट्रेशन 13 वर्ष पहले 2007 में कराया गया था। बताया गया है कि बस मालिक का नाम दिलीप जायसवाल है। यह बस 30 सीटर है जिसमें 70 से अधिक यात्रियों को ठूूंस ठूंसकर बिठाया गया था। पुलिस के अनुसार, बस चालक का नाम रूपेश तिवारी है। घायलों का कहना है कि बस चालक शराब के नशे में था और बेलगाम रफ्तार से बस चला रहा था। बस के दुर्घटनाग्रस्त होते ही चालक मौके से फरार हो गया। ग्रामीणों की सहायता से घायलों को बस के सामने के तोड़े गए शीशे से बाहर निकालकर स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।

यह भी पढ़ें – MP NEWS: सीधी में बड़ी ही दर्दनाक घटना में मृतकों की संख्या 53 हुई

ये हुए घायल

शिवप्रसाद उम्र 45 चमरवाही, अनीता 30 मानेगांव, सोनम नंदा 21 नैनपुर, रिया मरकाम 19 मरवेली, अहिल्या मरावी 25 डीलवाडा, राम मरावी 70 चीजगांव, सेजल उईके 14 चमरवाही, राधिका उईके 16 चमरवाही, मंतोबाई 60 चमरवाही, ग्यारसी मरावी 60 चमरवाही, सुलोचना मरावी 30 चमरवाही, सरोज मरावी 40 चमरवाही, फुलमा बाई मरावी 40 चमरवाही, अमर मरकाम 40 चमरवाही शामिल हैं।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *