Indore News: महिला टीचर ने सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा का हाथ तोड़ दिया, पुलिस नहीं लिखी FIR

Indore News: महिला टीचर ने सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा का हाथ तोड़ दिया, पुलिस नहीं लिखी FIR

इंदौर। नंदा नगर में स्थित न्यू बाल पब्लिक स्कूल में 1 महिला टीचर ने सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा का हाथ तोड़ दिया। बच्ची गरीब परिवार की है। स्कूल संचालक ने इलाज कराने की बात कही लेकिन इलाज नहीं कराया। पुलिस ने मेडिकल कराने के लिए भेजा लेकिन मेडिकल के आधार पर FIR दर्ज नहीं की। लड़की एमवाय हॉस्पिटल में भर्ती है।

घटना सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली 12 वर्षीय मानसी वर्मा निवासी शंकर कुम्हार का बगीचा के साथ हुई। पिता प्रेम वर्मा मंगलवार सुबह उसे अस्पताल लेकर पहुंचे थे। उन्होंने बातचीत में बताया कि बेटी नंदानगर के न्यू बाल पब्लिक स्कूल जाती है। यहां क्लास में टीचर नहीं होने से कुछ बच्चों के साथ मस्ती कर रही थी। इस दौरान एक महिला टीचर क्लास में आई और मस्ती करने की बात करते हुए मानसी का हाथ जोर से मोड़ दिया। इस दौरान उसका हाथ लटक गया।

इसे भी पढ़ें :- MP News: Sehore में सर्दी-खांसी के साथ वायरल फीवर के मरीजों ने बढ़ाई चिंता

बच्ची के काफी देर तक रोने के बाद स्कूल संचालक कमलेश गुप्ता ने मानसी के पिता प्रेम के मोबाइल पर कॉल किया और स्कूल से ले जाने की बात कही। बच्ची को लेकर पहले पिता परदेशीपुरा थाने पहुंचे। यहां काफी देर तक सुनवाई नहीं हुई। बच्ची के हाथ में दर्द बढ़ने के चलते उसे एमवाय अस्पताल ले जाया गया। यहां एक्स रे करवाने पर उसके हाथ में फ्रेक्चर का पता चला।

मानसी के पिता प्रेम वर्मा ने बताया कि उन्हें अस्पताल में स्कूल संचालक कमलेश गुप्ता का कॉल आया था। उन्होंने बताया था कि वह बच्ची का अच्छे से उपचार कराएंगे। मामले में पुलिस या अन्य जगह शिकायत नहीं करे, लेकिन रात तक बच्ची के परिवार को स्कूल संचालक ने कोई मदद नहीं की।

इसे भी पढ़ें :- MP News: Habibganj Railway Station वर्ड क्लास और हाईटेक बना, मिलेंगी एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं

टीआई अशोक पाटीदार के मुताबिक मामले में सुबह महिला आई थी। जिससे बच्ची को मेडीकल के लिए भेजा गया था। बाद में कोई शिकायत लेकर नहीं आया। अगर शिकायत आती है तो प्रकरण दर्ज किया जाएगा।

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.