1 जनवरी से वाहनों पर FASTag नहीं लगाया तो डबल टोल देना पड़ सकता है, ऐसे मिलेगा फास्टैग

1 जनवरी, 2021 से देश में सभी वाहनों के लिए FASTag को अनिवार्य किया जा रहा है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने यह घोषणा की है। उनका कहना है कि यह यात्रियों के लिए उपयोगी है क्योंकि उन्हें नकद भुगतान, समय की बचत और ईंधन के लिए टोल प्लाजा पर रुकने की आवश्यकता नहीं होगी। नए साल के आगमन के साथ, भारत में कई चीजें बदल जाएंगी। एक ऐसी महत्वपूर्ण बात जो जनवरी से बदल जाएगी, वह है देश भर के सभी चार-पहिया वाहन उपयोगकर्ताओं के लिए FASTags का अनिवार्य उपयोग।

Advertisement

यह भी पढ़े – किसानों के बिजली बिल में डाका डालने वाला आपरेटर गिरफ्तार, 86 हजार रुपये का गबन

1 जनवरी 2021 से फास्टैग अनिवार्य
1 जनवरी 2021 से सभी सभी गाड़ियों के लि फास्टैग(FASTag) को अनिवार्य कर दिया है। सभी सभी वाहनों के लिए फास्टैग (FASTag) को अनिवार्य कर दिया है। टोल प्लाजा पर सुरक्षित टोल टैक्स वसूली और लंबे जाम से निजात दिलाने के लिए फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है। जिन गाड़ियों पर फास्टैग नहीं होगा उनसे दोगुना टोल टैक्स वसूला जाएगा। वहीं इस टोल का भी भुगतान आपको डिजिटल तरीके से करना होगा। यानी 1 जनवरी से टोल प्लाजा पर टोल टैक्स की वसूली पूरी तरह से कैशलेस हो जाएगी।

यह भी पढ़े – इस बच्‍ची ने अनुपम खेर से कुछ ऐसी बातें कि बिना वीडियो देखें नहीं रह सकेंगे

देना पड़ेगा डबल टोल
अगर 1 जनवरी से आपकी गाड़ी पर फास्टैग नहीं है तो आपको टोल प्लाजा पर दोगुना टोल टैक्स दना पड़ेगा। एनएचएआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 31 दिसंबर की रात 12 बजे से सभी टोल प्लाजा पर लगे कैश काउंटर्स को हटा लिए जाएंगे। बिना फास्टैग वाली गाड़ियों से डिजिटल तरीके से टोल टैक्स वसूला जाएगा। इन परेशानियों से बचने के लिए 31 दिसंबर तक अपनी गाड़ियों पर फास्टैग लगवा लें।

यह भी पढ़े – कोरोना के मुश्किल में अगर छूट गई है जॉब, तो अच्छा मौका है जॉब पाने का पढ़िये पूरी जानकारी

कैसे काम करता है फास्टैग?
बता दें कि फास्टैग सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय और NHAI की पहल है। यह एक इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है। एक एक रेडियो फ्रीक्वेंसी पहचान टैग है, जो गाड़ियों के आगे के शीशे पर लगा होता है। ताकि टोल प्लाजा से गुजरने पर वहां लगा सेंसर इसे रीड कर सके। जब फास्टैग की मौजूदगी वाला व्हीकल टोल प्लाजा से गुजरता है तो टोल टैक्स फास्टैग से जुड़े प्रीपेड या बचत खाते से खुद ही कट जाता है।

यह भी पढ़े – विदिशा में सड़क पर उतरे किसान, किसानों ने दी चेतावनी

FASTag की पंजीकरण फीस के बारे में क्या?
नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अनुसार आप फास्टैग को किसी भी बैंक से 200 रुपये में खरीद सकते हैं। वहीं आप फास्टैग को कम से कम 100 रुपये से रिचार्ज करा सकते हैं। सरकार ने बैंक और पेमेंट वॉलेट को रिचार्ज पर अपनी ओर से कुछ अतिरिक्त चार्ज लगाने की छूट दी है।

यह भी पढ़े – मुंबई में सुरेश रैना-गुरु रंधावा सहित कई सितारे गिरफ्तार, मिली जमानत

फास्टैग से क्या होगा फायदा
टोल प्लाज़ा पर समय की बचत के अलावा, FASTags आपको FASTags का उपयोग करने पर टोल भुगतान पर 2.5 प्रतिशत का कैशबैक प्राप्त करने में भी मदद करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *