Corona Update: 24 घंटों में 19 लाख से ज्यादा लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट, अब तक 30 करोड़ से ज्यादा लोग करा चुके जांच

Corona Update: 24 घंटों में 19 लाख से ज्यादा लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट, अब तक 30 करोड़ से ज्यादा लोग करा चुके जांच

 

Corona Update: 24 घंटों में 19 लाख से ज्यादा लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट, अब तक 30 करोड़ से ज्यादा लोग करा चुके जांच
सांकेतिक तस्वीर.

 

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के खिलाफ देश की जंग जारी है. इसमें टेस्टिंग (Corona Test) की प्रक्रिया को भी तेजी से आगे बढ़ाया जा रहा है. 11 मई तक कुल 30,75,83,991 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं. जिनमें से 19,83,804 सैंपल कल यानी 11 मई को टेस्ट किए गए हैं.

 

वहीं बात करें कोरोना (Corona) के ताजा आंकड़ों की तो पिछले 24 घंटों में कोरोना 3,48,421 नए मामले सामने आए है जबकि 4205 लोगों की मौत हो गई है और 3,55,338 डिस्चार्ज होकर ठीक हो गए हैं. इसी के साथ कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,33,40,938 हो गई है जबकि अब तक 2,54,197 लोगों की मौत हो गई है. वहीं देश में सक्रिय मामलों की संख्या 37,04,099 है जबकि 1,93,82,642 ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं.

 

यह भी पढ़ें: Pakistan के Balochistan में हमलावरों ने सुरक्षा चौकी को बनाया निशाना, तीन जवानों की मौत, एक घायल

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

 

वहीं दूसरी ओर 533 जिलों में अब 10 फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट दर्ज किया जा रहा है. सरकार की तरफ से मंगलवार को कहा गया है कि दूसरी लहर में ग्रामीण भारत में कोरोना का व्यापक रूप से प्रसार हो रहा है. कुल 13 राज्यों में 1 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं. वहीं 6 राज्यों में 50 हजार से 1 लाख के बीच एक्टिव केस हैं. इसके अलावा 17 राज्यों में 50 हजार से कम एक्टिव मामले हैं. देशभर में एक्टिव मामलों का आंकड़ा 37 लाख से ज्यादा है.

 

आईसीएमआर के डॉ. बलराम भार्गव के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्रालय की पुरानी सिफारिश को छोड़ने का वक्त है, जिसमें कहा गया था कि 30 फीसदी से ज्यादा एंटीजन टेस्ट (RAT) नहीं होने चाहिए. डॉ. भार्गव ने कहा कि इसके बजाय ग्रामीण क्षेत्रो में टेस्टिंग की पहुंच को बढ़ाने के लिए RAT का आक्रामक रूप से इस्तेमाल किया जाना चाहिए. जिसमें स्कूलों और सामुदायिक केंद्रों में RAT टेस्टिंग सेंटर बनाए जाने चाहिए. रैपिड एंटीजन टेस्ट के रिजल्ट तेज हैं, लेकिन RT-PCR की तुलना में कम सटीक हैं. डॉ. भार्गव कहते हैं कि देश कोविड-19 मामलों में बड़े उतार-चढ़ाव का सामना कर रहा है. नेशनल पॉजिटिविटी रेट 20 से 21 फीसदी के करीब है. वहीं करीब 42 फीसदी जिले नेशनल पॉजिटिविटी रेट से ज्यादा वाले हैं.

 

यह भी पढ़ें: Azam Khan in ICU: तबीयत बिगड़ने के बाद ICU में शिफ्ट किए गए आजम खान, कोरोना से हैं संक्रमित

 

 

 

 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

Source link

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *