739 mnn 1

Military Station से युवक गिरफ्तार जासूसी के संदेह, पाकिस्तान सहित कई देशों के नंबरों से संपर्क

739 mnn 1

जैसलमेर. भारतीय थलसेना के सबसे बड़े Military Station के मुख्य द्वार के पास शनिवार देर रात मिलिट्री इंटेलिजेंस की जैसलमेर इकाई ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. भारतीय सेना की इंटेलिजेंस यूनिट ने जासूसी (staging) के संदेह के आधार पर एक शख्स को पकड़ा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, संदिग्ध शख्स जिले के बासनपीर गांव का निवासी बाय खान बताया जा रहा है. इसकी आर्मी कैंट में कैंटीन थी. यही वजह है कि उसका मिलिट्री स्टेशन में लगातार आना-जाना था. और संदिग्ध पर आर्मी की इंटेलिजेंस एजेंसी पिछले कुछ समय से लगातार निगरानी रख रही थी.

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पाकिस्तान सहित कई देशों के नंबरों से संपर्क

शनिवार देर रात मिलिट्री स्टेशन के टीएसपी वन गेट के पास आर्मी इंटेलिजेंस की टीम ने संदिग्ध शख्स को पकड़ा और उससे पूछताछ की. इस दौरान उसके मोबाइल फोन में पाकिस्तान सहित ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका और इंग्लैंड सहित कई देशों के नंबरों से संपर्क होने को जानकारी मिली. साथ ही उसके पास कुछ संदिग्ध जानकारियां भी मिलने की खबर सामने आ रही है.

ISI के लिए जासूसी करने का शक

जानकारी के अनुसार, खुफिया एजेंसियों की ओर से यह संभावना जताई जा रही है कि उसे पाकिस्तान खुफिया एजेंसी आईएसआई की ओर से हनी ट्रैप के जाल में फंसा कर रखा हुआ था. अब इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए मिलिट्री इंटेलिजेंस के साथ ही खुफिया एजेंसियां भी पूछताछ कर रही है. फिलहाल, अब तक इस पूरे मामले पर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

कॉल की डिटेल को तत्काल हटा देता था

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

वहीं, बीते दिनों भी जैसलमेर में जासूसी के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार किया गया था. जैसलमेर जिले के चांदण गांव निवासी युवक पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई के जाल में फंसकर हैनीट्रैप का शिकार हुआ और जासूसी करने लगा. चांदण में भारतीय वायुसेना की फायरिंग रेंज है. यहीं का निवासी यह युवक है. सेना के महत्वपूर्ण परीक्षण यहां होते रहते हैं. परमाणु परीक्षण भी यहां हुए हैं. एटीएस और इंटेलीजेंस की टीम ने मोबाइल फोन की कॉल रिकॉर्ड के आधार पर युवक को गिरफ्तार किया था. प्रारंभिक जांच में सामने आया कि युवक पाकिस्तान में बात होने के बाद कॉल की डिटेल को तत्काल हटा देता था.

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *