MP: सरकारी बाबू के लिए कंप्यूटर सीखना होगा जरूरी, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

MP: सरकारी बाबू के लिए कंप्यूटर सीखना होगा जरूरी, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

भोपाल। मध्य प्रदेश में सरकारी बाबू बनने के लिए अब तक कंप्यूटर में दक्षता (Computer Skill) को अनिवार्य नहीं किया गया था। लेकिन अपर मुख्य सचिव की समिति द्वारा भेजे गए सुझावों का अगर पालन होता है तो आने वाले समय में कंप्यूटर स्किल के साथ ही ग्रेजुएशन की डिग्री भी अनिवार्य हो जाएगी।

यह भी पढ़ें – Rewa: कलेक्टर ने ध्वजारोहण कार्यक्रम के संबंध दिये निर्देश, मुख्यमंत्री श्री चौहान करेंगे ध्वजारोहण

आईसीपी केशरी की अध्यक्षता वाली समिति ने भेजे सुझाव: जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश सरकार बाबू भर्ती के 45 साल पुराने नियमों में बदलाव करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए अपर मुख्य सचिव आईसीपी केशरी की अध्यक्षता वाली समिति ने सरकार को प्रस्तावों की रिपोर्ट सौंप दी है।

यह भी पढ़ें – Rajasthan News: धसगई सड़क नीचे गिरी ऑटो, लोगों के ऊपर गिरी ट्रैफिक लाइट

इसके अनुसार अब सभी सरकारी कार्यालयों में ई-फाइलिंग सिस्टम लागू होने जा रहा है। जिसमें नॉन पीएससी में लिपिकीय पद पर होने वाली भर्तियों में कंप्यूटर शिक्षा के साथ ही ग्रेजुएशन की डिग्री को अनिवार्य किए जाने के सुझाव दिए गए हैं।

वेतन में बदलाव को लेकर भी दिए सुझाव: समिति ने तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा लाए गए मानदेय भुगतान में भी बदलाव करने का सुझाव दिया है। इसके चलते अब नॉन पीएससी पदों पर भर्ती के पहले महीने से ही 100 प्रतिशत वेतन मिलेगा, कांग्रेस सरकार ने इन नियमों में बदलाव कर इन्हीं पदों पर पहले साल में 70, दूसरे साल में 80, तीसरे साल में 90 और चौथे साल में 100 प्रतिशत वेतन देने का नियम बनाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *