लगातार शिकायतों के बावजूद मैहर रोपवे की तकनीकी खराबी में अब तक कोई सुधार नहीं, हजारो श्रद्धालु आज भी है परेशान

लगातार शिकायतों के बावजूद मैहर रोपवे की तकनीकी खराबी में अब तक कोई सुधार नहीं, हजारो श्रद्धालु आज भी है परेशान

लगातार शिकायतों के बावजूद मैहर रोपवे की तकनीकी खराबी में अब तक कोई सुधार नहीं, हजारो श्रद्धालु आज भी है परेशान

सतना: मैहर, माँ शारदा मंदिर पहाड़ी में रोपवे कई महीनो से तकनिकी खराबी के कारण अस्थायी रूप से बंद पड़ा है। इसके ऑनलाइन बुकिंग के संचालन की जिम्मेदारी कोलकाता के दामोदर रोपवे कंपनी को अवैध रूप से सौपी गई थी। रोपवे के मोटर की खरीद फरोख्त में भी भारी गड़बड़ी पाई गई थी जिसके कारण रोपवे का संचालन कई बार अवरुद्ध किया जा चुका है किन्तु हैरानी की बात है कि राज्य सरकार के कानो पर जू भी नहीं रेंग रही।

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यदि क्रमशः देखे तो फरवरी 2018 में मैहर के शारदा मंदिर में जीएसटी घोटाला का हुआ था पर्दाफाश वही जून2018 में अंधड़ में करीब सौ से भी अधिक श्रद्धालु फंस गए थे तथा बड़ी मुश्किल से उन्हें बचाया गया था । अक्टूबर 2021 में मैहर के त्रिकूट पर्वत पर रोपवे में तकनिकी खराबी होने कारण लगभग 45 मिनट तक सौ से ज्यादा श्रद्धालु हवा में झूलते रहे। वही नवम्बर 2021 में हाई कोर्ट ने ऑनलाइन रोपवे बुकिंग टेंडर में घोटाले होने के कारण प्रतिबन्ध लगाया था। हालत यह है कि तीन चार घंटे तक मरम्मत का काम चलने के बावजूद इस रोपवे का कोई भरोसा नहीं कि ये कब बिच रास्ते में बंद हो जाए और श्रद्धालु हवा में लटके रह जाए।

यह स्पष्ट है कि दामोदर रोपवे कंपनी , कोलकाता श्रद्धालुओं के जीवन के साथ एक बड़ा खिलवाड़ कर रहा है और हैरानी कि बात है कि राज्य सरकार उनके सामने घुटने क्यों टेक रही है? दिक्कत सिर्फ रोपवे के बार बार ख़राब होने कि ही नहीं है अपितु मैहर देवी प्रांगण ने जब से उपाध्यायजी को मैनेजर नियुक्त किया है तब से श्रद्धालुओ के साथ दुर्व्यवहार कि घटनाये भी सामने आने लगी है। मैहर के जाने माने लोगो को अपमानित करने के वीडियो तक वायरल हो चुके है। आये दिन ये नए मैनेजर किसी को पास न देने या बिना किसी कारण कि विवाद के घेरे में पाया जाता है। माँ शारदा प्रबंधक समिति के पूर्व सदस्य से दुर्व्यवहार का भी एक वीडियो वायरल हुआ था किन्तु अभी तक मैनेजर उपाध्याय पर कोई कार्यवाही नहीं कि गई है।


कानूनी कार्यवाही के बावजूद त्रिकूट पर्वत पर स्थित माँ शारदा मंदिर के रोपवे की मरम्मत क्यों नहीं की जा रही यह एक रहस्य ही बना हुआ है। राज्य सरकार से गुहार है कि श्रद्धालुओं के जीवन से ऐसे खिलवाड़ न करे और जिम्मेदारी से रोपवे के तकनीकी खराबी को दुरुस्त करे। श्रद्धालुओं के साथ हो रहे मैनेजर द्वारा दुर्व्यवहार के मामले कि भी कड़ी जाँच की जाए।

Follow 👇

WhatsApp & Telegram Group Join Buttons
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *