Business Idea: जल्द शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी लाखों की कमाई

Business Idea: जल्द शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी लाखों की कमाई

अगर आप भी बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो पेपर नैपकिन (Paper Napkins) के बिजनेस में हाथ आजमा सकते हैं. इस बिजनेस को शुरू करने में आप सरकार की भी मदद ले सकते हैं. आज हम आपको बता रहे हैं कि पेपर नैपकिन बनाने की मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट (Manufacturing Unit) आप कैसे लगा सकते हैं और इस पर कितना खर्च आता है. इस बिजनेस के जरिए आप लाखों में कमाई (Earn money) कर सकते हैं.

बता दें कि लाइफ स्टाइल बदलने से पेपर नैपकिन (Tissue paper), जिसे टिश्यू पेपर (Tissue paper) भी कहा जाता है की मांग काफी बढ़ गई है. घर, ऑफिस, होटल-रेस्त्रां में टिश्यू पेपर ने अपनी जगह बना ली है. खास बात यह है कि टिश्यू पेपर की डिमांड न सिर्फ शहरों में बल्कि गांवों में भी तेजी से बढ़ रही है. इसलिए यह बिजनेस एक बड़ा आकार लेता जा रहा है. ऐसे में इसमें बिजनेस के अवसर भी बने है.

इसे भी पढ़ें :- Actress Giorgia Andriani ने दिवाली में अपलोड की अपने दिलो को मदहोश करने वाली तस्वीर

3.50 लाख रुपये में शुरू करें

अगर आप पेपर नैपकिन (Tissue paper) की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाना चाहते हैं तो आपको करीब 3.50 लाख रुपये का इंतजाम करना होगा. इतने पैसे होने के बाद आप किसी भी बैंक के पास मुद्रा स्‍कीम के तहत लोन के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं. 3.50 लाख रुपये आपके पास होने के कारण बैंक आपको लगभग टर्म लोन के तौर पर लगभग 3 लाख 10 हजार रुपये और वर्किंग कैपिटल लोन 5.30 लाख रुपये तक मिल जाएगा. आप साल में 1.50 लाख किलोग्राम पेपर नैपकिन (Tissue paper) का उत्पादन कर सकते हैं. यह नैपकिन लगभग 65 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बेच सकते हैं. यानी कि आप साल भर में लगभग 97.50 लाख रुपये का टर्नओवर कर सकते हैं.

कितना होगा खर्च

मशीनरी पर खर्च 4.40 लाख रुपये (इसमें मशीनरी पर 4 लाख रुपये और सेल्स टैक्स, और इंश्योरेंस पर 40 हजार रुपये), रॉ मटीरियल (प्रति माह) पर 7.13 लाख रुपये, टिश्यू पेपर 21 जीएसएम लगभग 12.5 टन पर 7 लाख रुपये, स्याही व कंज्यूमेबल पर 10 हजार रुपये, पैकिंग मटीरियल पर 3000 रुपये, स्टॉफ पर खर्च (प्रति माह) 27600 रुपये अन्य खर्च 13,500 रुपये, बिजली पर 2,500 रुपये, ट्रांसपोर्ट पर 3,000 रुपये, कंज्यूमूबल पर 1,000 रुपये, टेलिफोन पर 1,000 रुपये, स्टेशनरी पर 1,000 रुपये, मेंटिनेंस पर 1,000 रुपये, वर्किंग कैपिटल के लिए 7.54 लाख रुपये खर्च होंगे. यानी कुल निवेश 11.94 लाख रुपये का होगा.

कितनी होगी कमाई

आप साल में लगभग 1.50 लाख किलोग्राम पेपर नेपकिन का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. यह नैपकिन लगभग 65 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बेच सकते हैं. यानी कि आप साल भर में लगभग 97.50 लाख रुपए का टर्न ओवर कर सकते हैं. ऐसे में यदि आप सारे खर्च को जोड़ दें तो लगभग 92.50 लाख रुपए खर्च होंगे. यानी सालाना 5 लाख रुपए बचा सकते हैं. यानी कि आप लगभग 42 हजार रुपए तक कमाई कर सकते हैं.

कितना होगा खर्च

मशीनरी पर खर्च 4.40 लाख रुपये (इसमें मशीनरी पर 4 लाख रुपये और सेल्स टैक्स, और इंश्योरेंस पर 40 हजार रुपये), रॉ मटीरियल (प्रति माह) पर 7.13 लाख रुपये, टिश्यू पेपर 21 जीएसएम लगभग 12.5 टन पर 7 लाख रुपये, स्याही व कंज्यूमेबल पर 10 हजार रुपये, पैकिंग मटीरियल पर 3000 रुपये, स्टॉफ पर खर्च (प्रति माह) 27600 रुपये अन्य खर्च 13,500 रुपये, बिजली पर 2,500 रुपये, ट्रांसपोर्ट पर 3,000 रुपये, कंज्यूमूबल पर 1,000 रुपये, टेलिफोन पर 1,000 रुपये, स्टेशनरी पर 1,000 रुपये, मेंटिनेंस पर 1,000 रुपये, वर्किंग कैपिटल के लिए 7.54 लाख रुपये खर्च होंगे. यानी कुल निवेश 11.94 लाख रुपये का होगा.

कितनी होगी कमाई

आप साल में लगभग 1.50 लाख किलोग्राम पेपर नेपकिन का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं. यह नैपकिन लगभग 65 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बेच सकते हैं. यानी कि आप साल भर में लगभग 97.50 लाख रुपए का टर्न ओवर कर सकते हैं. ऐसे में यदि आप सारे खर्च को जोड़ दें तो लगभग 92.50 लाख रुपए खर्च होंगे. यानी सालाना 5 लाख रुपए बचा सकते हैं. यानी कि आप लगभग 42 हजार रुपए तक कमाई कर सकते हैं.

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.