MP NEWS: मध्य प्रदेश में आज से होगी 10वीं और 12वीं की विशेष परीक्षा

मध्य प्रदेश में आज से होगी 10वीं और 12वीं की विशेष परीक्षा

भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कक्षा 10वीं और 12वीं की विशेष परीक्षा 6 सितंबर से आयोजित हो रही है. विशेष परीक्षा कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं के रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र-छात्राओं के रिजल्ट बेहतर करने का मौका है. कक्षा दसवीं कक्षा बारहवीं की विशेष परीक्षा में प्रदेश भर से 14000 छात्र-छात्राएं शामिल हो रहे हैं. परीक्षा के दौरान कोविड गाइडलाइन का पूरी तरह पालन किया जाएगा.

10 वीं और 12 वीं होंगे शामिल

कक्षा 10वीं- कक्षा 12वीं की विशेष परीक्षाएं एक साथ आयोजित की जा रही है. सुबह 09बजे से दोपहर 12बजे तक परीक्षाएं चलेगी. प्रदेश भर के सभी 52 जिलों में एग्जाम सेंटर तैयार किए गए हैं. कक्षा 10वीं की परीक्षा 6 सितंबर से 15 सितंबर तक जारी रहेगी. 12वीं की परीक्षा 21 सितंबर तक चलेगी. कक्षा दसवीं की विशेष परीक्षा में 9000 छात्र छात्राएं शामिल हो रहे है, तो वहीं कक्षा 12वीं की विशेष परीक्षा में 5000 छात्र छात्राएं शामिल हो रहे हैं.

10वीं और 12वीं के 14000 स्टूडेंट देंगे विशेष परीक्षा

कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं की परीक्षा में 18 लाख से ज्यादा छात्र छात्राएं शामिल हुए थे तो वही विशेष परीक्षा में 10वीं और कक्षा 12वीं की विशेष परीक्षा में 14000 छात्र-छात्राएं ही शामिल हो रहे है. कक्षा 10वीं में 9000 छात्रों में से मुरैना,भिंड सतना और ग्वालियर से सबसे ज्यादा साढ़े 4000 छात्र छात्राएं बैठ रहे हैं जबकि भोपाल और इंदौर के 700 छात्र ही विशेष परीक्षा में शामिल होंगे. कक्षा दसवीं की विशेष परीक्षा में मंडला हरदा,बुरहानपुर,बड़वानी और दमोह से सबसे कम संख्या में छात्र शामिल हो रहे हैं.

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को विशेष परीक्षा के लिए सख्त दिशा निर्देश भी जारी किए हैं. इसी के चलते कम संख्या में छात्र-छत्राएँ विशेष परीक्षा में शामिल हो रहे है. विशेष परीक्षा में जो विद्यार्थी शामिल होंगे उनका वर्तमान परीक्षा परिणाम अमान्य कर दिया जाएगा. विशेष परीक्षा के आधार पर तैयार परीक्षा परिणाम ही अंतिम मान्य होगा. यदि कोई छात्र विशेष परीक्षा में सभी विषय में पास है और अंक सुधार के लिए विशेष परीक्षा में शामिल हो रहा है.

इसे भी पढ़ें :-Breaking News: सेना के एक जवान ने नशे में 3 महिलाओं को गोली मार, आरोपी गिरफ्तार

विशेष परीक्षा में शामिल होने वाला कोई परीक्षार्थी एक या एक से अधिक विषयों में फेल होता है तो उसे पूरक और फेल (अनुत्तीर्ण) की ही मार्कशीट दी जाएगी. विशेष परीक्षा में बैठने वाले छात्रों की वर्तमान अंकसूची मान्य नही की जाएगी. दरअसल कोरोना संक्रमण के चलते कक्षा 10वीं कक्षा 12वीं की परीक्षाएं आयोजित नहीं की गई थी. कक्षा 10वीं में आंतरिक मूल्यांकन और 12वीं में फार्मूले के आधार पर रिजल्ट घोषित किया गया था. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि जो भी स्टूडेंट रिजल्ट से संतुष्ट होंगे उनके लिए विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी.

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने सभी परीक्षा केंद्रों पर कोविड गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश दिए हैं. सभी परीक्षा केंद्रों पर छात्र छात्राओं को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षा केंद्रों पर बिठाया जाएगा. परीक्षा देने वाले सभी छात्र छात्राओं के लिए मास्क अनिवार्य होगा. थर्मल स्क्रीनिंग और हाथों को सेनेटाइज कराना अनिवार्य है.

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.