Samsung ने ग्लोबल स्मार्टफोन शिपमेंट में 27 प्रतिशत ग्रोथ के साथ बनाया रिकॉर्ड

 

एक मार्केट रिसर्च फर्म की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2021 की पहली तिमाही यानि Q1 2021 में ग्लोबल स्मार्टफोन शिपमेंट्स ने 27 प्रतिशत की year-on-year (YoY) ग्रोथ दर्ज की है। विश्व भर में स्मार्टफोन मार्केट में Samsung ने मार्केट शेयर में पहला स्थान हासिल किया है। उसके बाद Apple को दूसरा स्थान मिला और चीन की तकनीकी कंपनियां जैसे Xiaomi, Oppo, और Vivo ने टॉप फाइव की इस लिस्ट को इस क्रम में पूरा किया। Canalys का कहना है कि कोरोना के चलते कुछ ब्रांड्स ने भारत में डिवाइस शिपमेंट को प्राथमिकता नहीं दी। वहीं यूरोप जैसे देश जो कोरोना संकट से उबर चुके हैं, उन पर ध्यान दिया।

Canalys की रिपोर्ट कहती है 2021 की पहली तिमाही में वैश्विक स्तर पर स्मार्टफोन्स की शिपमेंट्स 347 मिलियन यूनिट पर पहुंची। इसमें अकेली सैमसंग ने 76.5 मिलियन शिपमेंट्स कीं। इसका मार्केट शेयर पिछले साल की तरह ही 22 प्रतिशत रहा। वहीं Apple ने 52.4 मिलियन आईफोन की शिपमेंट्स कीं। इसी के साथ कंपनी ने 1 प्रतिशत की YoY ग्रोथ दर्ज की और 15 प्रतिशत का मार्केट शेयर हासिल किया। एप्पल की सफलता का कारण इसके iPhone 12 models रहे और साथ ही iPhone 11 की भी काफी मांग रही।

Xiaomi ने इस तिमाही में अपनी सबसे अच्छी परफॉर्मेंस दर्ज की और 49 मिलियन यूनिट शिप कीं। इसकी ग्रोथ प्रतिशत 62 रही और 14 प्रतिशत का मार्केट शेयर रहा।

“बेहतरीन प्रोडक्ट वैल्यू के साथ ही Xiaomi अब लोकल टेलेंट को रिक्रूट करते हुए प्रगति कर रही है। इससे यह अधिक चैनल फ्रेंडली बन रही है और उम्दा नई खोजें भी कर रही है। जैसा कि Mi 11 Ultra और पिछले समय आए फोल्डेबल Mi Mix Fold को देखकर पता चलता है।” कैनालिस के रिसर्च मैनेजर बेन स्टेंटॉन ने कहा। उन्होंने कहा कि शोओमी का सरासर विस्तार इसके डिस्ट्रीब्यूटर्स को अन्य प्रतिद्वंदी ब्रांड्स के मुकाबले पैसा बनाने का बेहतर अवसर देता है।

इस लिस्ट में चौथा और पांचवा स्थान क्रमश: Oppo (11 प्रतिशत मार्केट शेयर) और Vivo (10 प्रतिशत मार्केट शेयर) को मिला। ओप्पो ने 37.6 मिलियन जबकि विवो ने 36 मिलियन यूनिट्स शिप कीं। दूसरी सभी स्मार्टफोन ब्रांड्स ने 95.9 यूनिट्स शिपमेंट के द्वारा 28 प्रतिशत का एक संचित मार्केट शेयर हासिल किया। इसमें पूर्व की विश्व में अग्रणी Huawei भी शामिल है। जिसने अमेरिकी प्रतिबंधों से हताहत होने के बाद भी Q1 2021 18.6 मिलियन यूनिट्स शिप कीं।

वहीं 2021 की पहली तिमाही में LG का स्मार्टफोन बिजनेस से निकास भी देखा गया। कैनालिस के एनालिस्ट संयम चौरसिया ने कहा कि यह विकास स्मार्फोन मार्केट में एक नए युग का प्रतीक है। यह साबित करता है कि चैनल रणनीति और आक्रामक कीमत आज के समय में हार्डवेयर अंतर से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि LG जो कि अमेरिका में बहुमत शेयर (2020 के कुल शेयर का 80 प्रतिशत) में थी, ने अपना व्यापार बंद करके Motorola, TCL, Nokia, और ZTE जैसी ब्रांड्स के लिए नए अवसर दिए हैं जिन्होंने अपने कीमत बिंदू को $200 (लगभग 15,000 रुपये) से नीचे ही रखा।

Q1 2021 में यूरोप जैसे क्षेत्र, जो कि अब कोरोना से उबर रहे हैं, शिपमेंट ग्रोथ के भागीदार रहे। वहीं भारत जैसे देश, जो कोरोना से बुरी तरह जूझ रहे हैं, में कंपनियों ने शिपमेंट्स को प्राथमिकता नहीं दी।

Canalys के अनुसार नाजुक पुर्जे, जैसे कि चिपसेट, अब चिंता का मुख्य विषय बन चुके हैं और आने वाली तिमाहियों में स्मार्टफोन शिपमेंट्स को प्रभावित कर सकते हैं। इनका अभाव वैश्विक ब्रांड्स को आवंटन की खरीद फरोख्त करने की अधिक शक्ति देगा जिससे छोटी ब्रांड्स को भी दबाव के चलते LG की तरह बाहर का रास्ता देखना पड़ सकता है।

 

 

 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *