शराब पीने से बेअसर हो जाएगी कोरोना वैक्सीन, वैज्ञानिकों ने बताया

दुनियाभर में कोरोना वैक्सीन को लेकर प्रयोग चल रहें हैं और कुछ वैक्सीन के प्रारंभिक प्रयोग सफल रहे हैं और इनसे सकारात्मक परिणाम भी दिखाई दिए हैं। इन्हीं वैक्सीन में एक है रूस की स्पूतनिक वैक्सीन।

स्पूतनिक वैक्सीन के लिए भारत ने भी करार किया है और जल्द ही यह वैक्सीन भारतीयों को भी लगाई जा सकती है, लेकिन इस वैक्सीन को लगाने वालों को एक चीज की सावधानी रखनी होगी वरना वैक्सीन का कोई असर नहीं होगा। अगर वैक्सीन लगाने के बाद किसी व्यक्ति ने शराब पी ली तो उसका असर खत्म हो जाएगा।

रुस के उपप्रधानमंत्री का बयान
रूस के उपप्रधानमंत्री ततियाना गोलिकोवा ने अपने नागरिकों को सलाह दी है कि कोरोना टीका लगाने के बाद अलग शराब पी तो सब कुछ बेकार हो जाएगा। उन्होंने कहा कि शराब पीने की आदत कोरोना वैक्सीन को बेअसर कर सकता है। गौरतलब है कि रूस में हाल ही में लोगों को स्पूतनिक-वी टीका दिया जा रहा है। रूस के उपप्रधानमंत्री ततियाना गोलिकोवा का कहना है कि मेरी सलाह देने का लक्ष्य यह है कि लोगों की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनी रहे।

क्या कहते हैं वैज्ञानिक
स्पूतनिक टीका लेने के दो महीने बाद वैक्सीन काम करना शुरु करेगी। इस दौरान वैक्सीन लेने वाले व्यक्ति को कुछ सावधानियां रखनी पड़ती है। रूसी स्वास्थ्य मंत्रालय के गमालिया इंस्टीच्यूट ऑफ एपिडेमोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी के प्रमुख एलेक्जेंडर गिन्ट्सबर्ग का भी कहना है कि स्पूतनिक वैक्सीन लेने के बाद अगर शराब का सेवन करेंगे तो वैक्सीन का प्रभाव कम होने का खतरा है। कंज्यूमर सेफ्टी वॉचडॉग की प्रमुख अन्ना पोपोवा ने कहा है कि कोविड-19 स्ट्रेन को खत्म करने के लिए शराब बिल्कुल ना पीएं।

भारत में वैक्सीनेशन की तैयारी तेज
भारत में बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस के टीकाकरण की तैयारी चल रही है। केंद्र सरकार ने इसके लिए एक विस्तृत योजना तैयार की है। ऐसे में वैक्सीन लगने के बाद भारतीयों को भी इससे संबंधित कुछ सावधानियों का पालन जरूर करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.