Corona Indian Variant: अब स्पेन में मिला भारतीय कोरोना वैरिएंट, नए स्वरूप के 11 मामले सामने आए

Corona Indian Variant: अब स्पेन में मिला भारतीय कोरोना वैरिएंट, नए स्वरूप के 11 मामले सामने आए

स्पेन में वैक्सीनेशन का काम तेजी से चल रहा है. AFP

स्पेन में भारत में पाए गए कोरोना वायरस (Corona virus) के नए स्वरूप के 11 मामले सामने आए हैं. स्पेन की स्वास्थ्य मंत्री कैरोलिना डेरियास ने कहा है कि स्वास्थ्य अधिकारियों को हाल के दिनों में दो अलग-अलग मामलों का पता चला है. उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन और श्वसन संबंधी मशीनों समेत आवश्यक चिकित्सा सामग्री लेकर एक विमान कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित भारत के लिए गुरुवार को रवाना हुआ है. भारत में मिला कोरोना वायरस का नया वैरिएंट कई देशों में फैल चुका है.

 

 

स्पेन की सरकार ने कोविड-19 की दूसरी लहर से निपटने में भारत की मदद के लिए सात टन चिकित्सा सामग्री की एक खेप भेजने की पिछले हफ्ते मंजूरी दी थी. इस बीच स्पेन में वैक्सीनेशन का काम तेजी से चल रहा है. सोमवार को महज 24 घंटे में इस देश में 50 लाख लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया था.

 

 

70 फीसदी आबादी लक्ष्य

स्पेन की स्वास्थ्य मंत्री कैरोलिना डेरियास ने बताया था कि गर्मियों से पहले स्पेन 70 फीसदी वयस्कों को वैक्सीन देने की योजना है. मतलब 3.3 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगा दी जाएगी. यहां वैक्सीनेशन सेंटर सातों दिन काम कर रहे हैं और जून के पहले हफ्ते तक 1 करोड़ लोग फुली वैक्सीनेटेड हो जाएंगे.

 

 

कई यूरोपीय देशों तक पहुंचा वैरिएंट

भारत में मिला कोरोना का नया वैरिएंट कई देशों तक पहुंच चुका है. स्पेन से पहले इसके मामले छह यूरोपीय देशों में पाए जा चुके हैं. फ्रांस में बीते हफ्ते इस नए वैरिएंट के तीन नए मामले सामने आए थे. इन तीनों ने भारत की यात्रा की थी. इसके अलावा स्विट्जरलैंड में भी कोरोना के इस नए वैरिएंट के मामले सामने आए थे. फ्रांस भारत से आने वाली फ्लइट्स पर रोक लगा चुका है. उसे आशंका है कि यह नया वैरिएंट भारत की तरह यहां भी तबाही न मचा दे.

 

 

17 देशों में भारतीय वैरिएंट

भारत में मिला कोरोना वायरस का नया वैरिएंट कम से कम 17 देशों में पाया जा चुका है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक B.1.617 वैरिएंट सबसे पहले भारत में पाया गया था. इसके बाद यह कई देशों में फैल चुका है. कोरोना वायरस के इस नए वैरिएंट ने वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है. भारत में RT-PCR के बावजूद इस वायरस का पता नहीं चल पा रहा है.

 

 

 

 

 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.