बंगालः ममता 5 मई को तीसरी बार लेंगी CM पद की शपथ, राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा

 

पश्चिम बंगाल के गनर्वर जगदीप धनखड़ को ममता बनर्जी ने सौंपा इस्तीफा. (तस्वीर-jdhankhar1 Twitter)

कोलकाता. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पांच मई को तीसरी बार पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगी. राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Governor West Bengal Jagdeep Dhankhar) ने सोमवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कोविड-19 संकट के चलते समारोह में कुछ ही व्यक्ति उपस्थित रहेंगे. इससे पहले, बनर्जी ने नियमों का पालन करते हुए राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा. धनखड़ ने ट्वीट किया, ‘मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मुझसे मुलाकात की और मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा सौंपा, जिसे स्वीकार कर लिया गया.

 

उनसे वैकल्पिक व्यवस्था होने तक पद पर बने रहने का अनुरोध किया गया है.’ धनखड़ ने ट्वीट किया, ‘टीएमसी द्वारा ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल की 17वीं विधानसभा का नेता चुने जाने का संप्रेषण मिलने के बाद बनर्जी को पांच मई पूर्वाह्न 10 बजकर 45 मिनट पर मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के लिये राजभवन आमंत्रित किया गया है.’ तृणमूल विधायकों ने मौजूदा विधानसभा के अध्यक्ष विमान बनर्जी को नयी विधानसभा का कार्यवाहक अध्यक्ष चुना है. टीएमसी महासचिव पार्थ चटर्जी ने पार्टी मुख्यालय में हुई विधायकों की बैठक के बाद पत्रकारों से कहा, ‘नव-निर्वाचित सदस्य छह मई को विधानसभा में शपथ लेंगे.’ हाल ही में संपन्न पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में टीएमसी 292 में से 213 सीटें जीतकर लगाकर तीसरी बार सत्ता में आई है. भाजपा को 77 सीटों पर जीत हासिल हुई है.

 

 

जेपी नड्डा का बंगाल दौरा

 

चुनाव नतीजों के बाद हुई हिंसा को देखते हुए बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा दो दिनों के दौरे पर बंगाल जा रहे हैं. नड्डा का ये दौरा 4 मई को शुरू होगा और इस दो दिवसीय दौरे के दौरे पर बीजेपी अध्यक्ष हिंसा में पीड़ित बीजेपी कार्यकर्ताओं और उनके परिजनों से मुलाकात करेंगे.इसके साथ ही बंगाल में टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा हुई हिंसा के विरोध में बीजेपी 5 मई को देश भर में प्रदर्शन करेगी. पार्टी ने कहा है कि प्रदर्शन के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा. प्रदर्शन में बीजेपी के सभी मंडलों के संगठन हिस्सा लेंगे.

 

 

राज्य भर में हिंसा दरअसल चुनाव नतीजे आने के एक दिन बाद बंगाल में सोमवार को व्यापक पैमाने पर हिंसा देखने को मिली, जिसमें कथित तौर पर झड़प और दुकानों को लूटे जाने के दौरान कई भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत हो गई तो कई घायल हो गए. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से विपक्षी कार्यकर्ताओं पर हमले की घटना में तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है.


 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *