मध्य प्रदेश में उत्सव एवं समारोह की जानकारी

 उत्सव एवं समारोह

मध्यप्रदेश समारोह – यह समारोह दिल्ली में आयोजित होता है। इसमें मध्यप्रदेश के सांस्कृतिक विरासत की झांकियां प्रस्तुत होती है। चित्र प्रदर्शनी, गायन, नृत्य एवं वादन आदि का आयोजन किया जाता है। यह समारोह एक सप्ताह तक चलता रहता है। 


कालिदास समारोह – यहां समारोह उज्जैन में कालिदास की स्मृति में कालिदास अकादमी द्वारा आयोजित किया जाता है। इसमें परंपरागत रंग मंचन, परिसंवाद, वाद विवाद, नाट्य प्रदर्शन एवं चित्र प्रदर्शनी आदि का आयोजन होता है। यह समारोह एक सप्ताह तक आयोजित होता है। 


खजुराहो का नृत्य समारोह – यह समारोह खजुराहो में होता है। इसका प्रारंभ 1976 में हुआ है। इसका आयोजन हर वर्ष होता है। इस नृत्य में भारतीय शास्त्रीय नृत्य की सभी शैली होती हैं। इसमें प्रतिष्ठित कलाकार शामिल होते हैं। यह प्रदेश का ही नहीं, बल्कि भारत का सबसे बड़ा नृत्य समारोह माना जाता है।


तानसेन समारोह – यह समारोह तानसेन की याद में ग्वालियर में आयोजित किया जाता है। यह शास्त्रीय संगीत का एक प्रतिष्ठित समारोह है। इसमें देश के गायक, वादक एवं शीर्ष संगीतज्ञ भाग लेते हैं।


उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत समारोह – यह समारोह मैहर(ग्वालियर) में आयोजित होता है। यह समारोह बाबा अलाउद्दीन खां की याद में आयोजित किया जाता है। इसमें शास्त्रीय संगीत की विविधता पूर्ण प्रस्तुति होती है। इसका मुख्य आकर्षण अलाउद्दीन खान द्वारा स्थापित मैहर बैंड है।


ध्रुपद समारोह – यह समारोह भोपाल में आयोजित होता है। यह संगीत की ध्रुपद विधा को बढ़ावा देने के लिए गुरु – शिष्य परंपरा के आधार पर आयोजित किया जाता है।


मालवा उत्सव – यह समारोह मध्य प्रदेश शासन के संस्कृत विभाग द्वारा 1991 में प्रतिवर्ष इंदौर, उज्जैन एवं मांडू में आयोजित किया जाता है। इसमें मालवी शैली के नृत्य प्रस्तुत किया जाता है तथा हस्तशिल्पी आदि के मेले आयोजित होते हैं।

बाल कृष्ण शर्मा ‘नवीन’ समारोह – यह समारोह जबलपुर में आयोजित होता है। इसमें भिन्न – भिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम होते हैं।


कला समारोह – यह समारोह मध्य प्रदेश में लगभग दो दशक से प्रतिवर्ष आयोजित किया जा रहा है। इसमें चित्रकला,शास्त्रीय संगीत, शास्त्रीय नृत्य, रंगमंच एवं काव्य पाठ आदि कार्यक्रम होते हैं।


ओरछा उत्सव – यह समारोह टीकमगढ़ में आयोजित किया जाता है। इसमें बुंदेलखंड के कलाकारों का नृत्य, गायन एवं वादन आयोजित किया जाता है।


सुभद्रा कुमारी चौहान – यह समारोह जबलपुर में कवियत्री सुमीत सुभद्रा कुमारी चौहान की याद में आयोजित किया जाता है। इसमें देश के प्रवक्ता साहित्यकार एवं कला विशेषक भाग लेते हैं।


उस्ताद आमिर खान संगीत समारोह – यह समारोह इंदौर शहर में आयोजित होता है। यह सुप्रसिद्ध सितार वादक आमिर खान की याद में आयोजित होता है। इसमें देश के प्रमुख सांस्कृतिक एवं शास्त्री संगीत से जुड़ी हस्तियां भाग लेती है।

मध्य प्रदेश की सांस्कृतिक समारोह व स्थल

कालिदास समारोह (उज्जैन)

खजुराहो नृत्य समारोह (खजुराहो)

तानसेन समारोह (ग्वालियर)

मालवा उत्सव (इंदौर, उज्जैन, मांडू)

उस्ताद अलाउद्दीन खां संगीत समारोह (मैहर (सतना) एवं विभिन्न शहरों मे)

आमिर खान संगीत समारोह (इंदौर)

ध्रुपद समारोह (भोपाल)

मध्यप्रदेश समारोह (दिल्ली)

ओरछा उत्सव (टीकमगढ़)

पद्माकर समारोह (सागर)

सुभद्रा कुमारी चौहान समारोह (जबलपुर)

माखनलाल चतुर्वेदी समारोह (खंडवा)

निमाड़ उत्सव* (खंडवा, खरगोन, बड़वानी)

दुर्लभ बाद विनोद समारोह (भोपाल)

टेपा समारोह (उज्जैन)

लोक रंग समारोह (भोपाल)

किशोर कुमार समारोह (खंडवा)

मध्य प्रदेश लोक समारोह (भोपाल)

लता मंगेशकर सुगम संगीत समारोह (इंदौर)

राष्ट्रीय रामलीला समारोह (भोपाल)

बालकृष्ण शर्मा नवीन स्मृति समारोह (शाजापुर)

तुलसी समारोह (चित्रकूट (सतना))

श्री राम का पाटोत्सव (मांडू)

मध्यपर्व समारोह (मध्यप्रदेश स्थापना दिवस पर), भोपाल

जनजाति फिल्म समारोह (इंदौर)

मुख्य समारोह महेश्वर में मनाया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *