कोविड के दौरान आइसोलेट रहने की नहीं थी जगह, तेलंगाना के इस छात्र ने पेड़ पर बिताए 11 दिन

 

कोविड के दौरान आइसोलेट रहने की नहीं थी जगह, तेलंगाना के इस छात्र ने पेड़ पर बिताए 11 दिन
18 साल के शिव ने पेड़ पर बना लिया आइसोलेशन सेंटर

 

कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को स्वास्थ्य, बेहतर इलाज की चुनौती के साथ ही एक बुनियादी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, वो है घर में अपने परिवार वालों से अलग रहने के लिए जगह की कमी. देश में ऐसे कई परिवार हैं जो एक कमरे के घर में ही रहते हैं जिसमें रसोई और कभी-कभी शौचालय भी शामिल है.

 

यही वजह है कि 18 साल के शिव ने खुद ही एक कोविड ‘वार्ड’ बनाने का फैसला किया. उसने अपने घर के परिसर में लगे एक पेड़ की शाखाओं पर बंधे बांस की छड़ियों से एक बिस्तर बना दिया, जहां उसने कोविड के दौरान अपने आपको आइसोलेट कर परिवार से दूर रखा है.

 

नालगोंडा जिले के अंदरूनी इलाकों में बसे एक आदिवासी गांव कोथानंदिकोंडा में रहने वाले शिव 4 मई को पॉजिटिव पाए गए थें. जिसके बाद गांव के स्वयंसेवकों ने उसे घर पर रहने और अपने परिवार से अलग रहने की सलाह दी. शिव ने दी प्रिंट को बताया कि वो इस बीमारी से संक्रमित तो थे लेकिन उसके पास इतना बड़ा घर नहीं था जहां वो एक कमरे में खुद को आइसोलेट कर सके. शिव ने बताया कि इस बीच उसे पेड़ पर रहने का विचार आया. उसने बताया कि तब से अबतक वो 11 दिन पेड़ पर बिता चुका है.

 

350 परिवारों का घर है कोथनंदिकोंडा 

मालूम हो कि कोथनंदिकोंडा लगभग 350 परिवारों का घर है और जिले के अदाविदेवुलपल्ली मंडल के अंतर्गत कई आदिवासी बस्तियों में से एक है. वहा रहनेवालों ने कहा कि उनके गांव से सबसे नजदीकी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHC) 5 किमी दूर है और इन बस्तियों के लोगों को किसी गंभीर बीमारी का इलाज करवाने के लिए 30 किमी की यात्रा करनी पड़ती है.

 

अनुसूचित जनजाति हॉस्टल को एक आइसोलेशन केंद्र में किया गया तब्दील

राज्य के ग्रामीण इलाकों में कोविड मामले बढ़ने पर ज़िला प्रशासन ने 13 मई को मंडल में स्थित अनुसूचित जनजाति हॉस्टल को एक आइसोलेशन केंद्र में तब्दील कर दिया. लेकिन इन इलाकों में रहने वाले बहुत से लोगों को अभी इसका पता ही नहीं है. शिव ने कहा कि उसके गांव में कोई आसोलेशन सेंटर नहीं है. उसने कहा कि उसके परिवार में चार लोग हैं और ‘अपने कारण मैं किसी को संक्रमित नहीं कर सकता’ उसने पेड़ पर आइसोलेट करने का फैसला किया.

 

 

 

Follow 👇

लाइव अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करें:

 

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *