PM Modi ‘पराक्रम दिवस’ समारोह के अवसर पर कोलकाता जाएंगे, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

PM Modi 'पराक्रम दिवस' समारोह के अवसर पर कोलकाता जाएंगे, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

नई दिल्ली। नेता सुभाष चंद्र बोस (Subhas Chandra Bose) की 125वीं जयंती की शुरुआत को केंद्र सरकार ने ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की है। इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) भी 23 जनवरी को कोलकाता के दौरे पर होंगे, इसके साथ ही पीएम मोदी असम के शिवसागर में जेरंगा पाथर भी जाएंगे, जहां वे 1.06 लाख भूमि पट्टे/ आवंटन प्रमाण पत्र वितरित करेंगे।

यह भी पढ़ें – कांग्रेस सरकार की नीति में होगा परिवर्तन, आम आदमी को लगने वाला है झटका

ये है पराक्रम दिवस का पूरा कार्यक्रम: बता दें कि पश्चिम बंगाल के दौरे में पीएम मोदी कोलकाता स्थित विक्टोरिया मेमोरियल से ‘पराक्रम दिवस’ समारोह का उद्घाटन करेंगे, राष्ट्र के प्रति नेताजी की अदम्य भावना और निस्वार्थ सेवा का सम्मान करने और उन्हें याद करने के लिए, भारत सरकार ने देश के लोगों विशेषकर युवाओं को प्रेरणा देने के लिए, हर साल 23 जनवरी को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें – UP: BJP अध्यक्ष JP Nadda का दो दिवसीय लखनऊ दौरा आज से, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

पीएम नेशनल लाइब्रेरी मैदान में एक प्रदर्शनी का भी उद्घाटन करेंगे। पश्चिम बंगाल के 200 पटुआ कलाकार 400 मीटर लंबे कैनवास पर चित्रकारी करेंगे, जिसमें बोस के जीवन को दर्शाया जाएगा। नेताजी पर एक प्रोजेक्शन मैपिंग शो का भी उद्घाटन किया जाएगा। साथ ही प्रधानमंत्री द्वारा एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी किया जाएगा, इस मौके पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम “Amra Nuton Jouboneri Doot” भी आयोजित किया जाएगा। पीएम मोदी इस पूरे कार्यक्रम में भाग लेने वाले कलाकारों और प्रतिभागियों से भी मुलाकात करेंगे।

यह भी पढ़ें – शेयर बाजार में जश्न का माहौल, पहली बार 50,000 अंकों के पार, पढ़िए BSE NSE की अपडेट

पीएम मोदी असम के शिवसागर भी जाएंगे: वहीं असम के शिवसागर में पीएम मोदी 1.06 लाख भूमि पट्टे/आवंटन प्रमाण पत्रों का वितरण करेंगे। राज्य के लोगों के भूमि अधिकारों की रक्षा के लिए असम की सरकार ने नई लैंड पॉलिसी लाई है, इसी के तहत पीएम मोदी भूमि पट्टों का वितरण करेंगे। असम में 2016 में 5.75 लाख भूमिहीन परिवार थे, वर्तमान सरकार ने मई 2016 से अब तक 2.28 लाख भूमि पट्टों / आवंटन प्रमाण पत्र वितरित किए हैं। 23 जनवरी को होने वाला समारोह इस प्रक्रिया में अगला कदम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *