मध्यप्रदेश में खनिज संसाधन की जानकारी

मध्यप्रदेश में खनिज  मध्यप्रदेश खनिज संसाधनों की दृष्टि से संपन्न राज्य है। अविभाजित मध्यप्रदेश का खनिज उत्पादन में प्रथम स्थान है। मध्य प्रदेश का खनिज भंडारों की दृष्टि से देश में तीसरा स्थान है। मध्य प्रदेश में लगभग 25 प्रकार के खनिज पाए जाते हैं, जिनमें से 20 का उत्पादन प्रदेश में किया जा रहा … Read more

मध्यप्रदेश में राष्ट्रीय उद्यान तथा अभ्यारण की जानकारी

राष्ट्रीय उद्यान तथा अभ्यारण्य  मध्य प्रदेश शासन के राज्य पत्र में 14/12/2018 को जारी अधिसूचना के अनुसार कूनो पालपुर अभ्यारण्य को कूनो राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया है, साथ ही करेरा अभ्यारण्य शिवपुरी को डीनोटिफिकेशन किया गया तथा कुछ अभ्यारण्य के कुछ क्षेत्रों को भी डीनोटिफिकेशन किया गया है। कूनो राष्ट्रीय उद्यान बन जाने से … Read more

मध्य प्रदेश सिंचाई तथा नदी परियोजना की जानकारी

प्रदेश में सिंचाई की जानकारी राज्य के तत्कालीन महाराज ने सन 1950 में सिंचाई विभाग की स्थापना की थी। मध्य प्रदेश की पहली नजर 1923 में बालाघाट जिले में बैन गंगा नहर बनाई गई थी।मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के भोजपुर में बेतवा नदी पर 1010 – 1053 ईस्वी में परमार राजा भोज द्वारा बनवाया … Read more

मध्य प्रदेश में नदियों की जानकारी

मध्यप्रदेश में नदिया प्रदेश में लगभग 207 छोटी – बड़ी नदियां बहती है। मध्य प्रदेश को नदियों का मायका भी कहा जाता है। मध्यप्रदेश की गंगा ‘बेतवा’ नदी को कहा जाता है। मध्यप्रदेश की नर्मदा नदी भारत की पांचवीं सबसे बड़ी नदी है। मालवा की गंगा ‘ क्षिप्रा ‘ को कहा जाता है। नर्मदा नदी भारत … Read more

मध्यप्रदेश में कृषि एवं फसल की जानकारी

कृषि एवं फसल की जानकारीभारत की भांति मध्यप्रदेश भी एक कृषि प्रधान राज्य हैं। मध्य प्रदेश की लगभग 70% जनसंख्या कृषि पर निर्भर है। मध्य प्रदेश के लगभग 49% क्षेत्रफल पर कृषि होती है। मध्य प्रदेश की सर्वाधिक सिंचित फसल गेहूं है।मध्यप्रदेश में कृषि उद्योग विकास निगम द्वारा प्रदेश के पहले सैलरीज जैविक खाद संयंत्र … Read more

मध्य प्रदेश में मिट्टी की जानकारी

मध्य प्रदेश में मिट्टी धरातल की ऊपरी परत जो पेड़ पौधों के उगने व बढ़ने के लिए आवश्यक तत्व को प्रदान करती है, मिट्टी कहलाती है। मिट्टी चट्टान तथा जीवांश के मिश्रण से बनती है। मध्यप्रदेश के मंडला, बालाघाट, शहडोल, उमरिया में लाल तथा पीली मिट्टी की अधिकता पाई जाती है। मध्यप्रदेश में काली मिट्टी … Read more

मध्य प्रदेश की जलवायु की जानकारी हिंदी में

जलवायु किसी क्षेत्र विशेष के औसत मौसम जो एक लंबे समय से बना रहता है वह जलवायु कहलाता है, यह ताप, आद्रता, वर्षा तथा तीव्रता पर निर्भर करता है मध्यप्रदेश में मानसूनी जलवायु पायी जाती हैं। जलवायु के आधार पर मध्य प्रदेश को चार भागों में बांटा गया है –  1. मालवा का पठार –  … Read more

मध्य प्रदेश का निर्माण की जानकारी

मध्य प्रदेश का गठन एवं निर्माणमध्यप्रदेश देश के बीच में स्थित है, इसलिए इसे हृदय प्रदेश, मध्य भारत भी कहा जाता है। पंडित जवाहरलाल नेहरू ने प्रदेश को मध्य प्रदेश नाम दिया। प्रदेश को ब्रिटिश काल में सेंट्रल प्रोविसेस और बरार के नाम से भी जाना जाता था। स्वतंत्रता के बाद मध्य प्रदेश को 3 … Read more

Madhya Pradesh Forest की सभी जानकारी हिन्दी में

एमपी वन  एक क्षेत्र जहां वृक्षों का घनत्व अत्यधिक रहता है उसे वन कहते हैं। वन अधिनियम 1927 के अनुसार वह भू-मंडल का वह भाग जो वृक्षों से ढका हुआ है वन कहलाता है। भारत में वन संसाधनों की आंकलन की वन स्थिति रिपोर्ट 2019 वन एवं पर्यावरण मंत्रालय द्वारा 30 दिसंबर 2019 को जारी … Read more

आओ जाने अपना मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में कुल 52 जिले हैं जो इस प्रकार है – अशोकनगर अनूपपुर आलीराजपूर इंदौर उज्जैन उमरिया कटनी खरगोन खंडवा गुना ग्वालियर छतरपुर छिंदवाड़ा जबलपुर झाबुआ टीकमगढ़ डिंडोरी दतिया दमोह देवास धार नरसिंहपुर नीमच पन्ना बड़वानी बालाघाट बैतूल बुरहानपुर भिंड भोपाल मंडला मंदसौर मुरैना रतलाम राजगढ़ रायसेन रीवा विदिशा श्योपुरी शहडोल शाजापुर शिवपुरी सतना … Read more