Indore: DAVV विद्यार्थियों को हाई स्पीड इंटरनेट सुविधा दी जाएगी

mpnewsnow.com

इंदौर। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) (Devi Ahilya Vishwavidyalaya) (DAVV) के विद्यार्थी लंबे समय से इंटरनेट की हाई स्पीड नहीं मिलने से परेशान होते रहे हैं। विश्वविद्यालय के खंडवा रोड कैम्पस के विभाग अब अपने स्तर पर इंटरनेट कनेक्शन लेने में लगे हैं।

यह भी पढ़ें – Indore: अब JEE Main में आवेदन करने की तारीख बढ़ी, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

विश्वविद्यालय प्रशासन भी विद्यार्थियों की परेशानी को देखते हुए हाई स्पीड इंटरनेट देने की तैयारी कर रहा है। कार्यपरिषद में वाईफाई उपकरण और हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन लेने की अनुमति लेने के बाद विश्वविद्यालय के इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (आइइटी) (Institute of Engineering and Technology) (IIT) के दो हजार से ज्यादा विद्यार्थियों को राहत मिलेगी। अब तक पढ़ाई और रिसर्च का काम करने में विद्यार्थियों को कई तरह की परेशानी का सामना करना पड़ता था। अधिकारियों का कहना है कि वाईफाई उपकरण के लिए कंपनी की तलाश शुरू कर दी है। वाईफाई की रेंज बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है। इससे कैम्पस के किसी भी कोने से इंटरनेट एक्सेस किया जा सकता है। आइइटी के कैम्पस में कई होस्टल भी है। इन विद्यार्थियों को भी हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा मिल सकेगी।

यह भी पढ़ें – MP: बेटी ने अपने पिता को मार डाला, लाश में बदबू रोकने के लिए डाला परफ्यूम

रिसर्च के काम के लिए भी है जरूरी: विश्वविद्यालय के अन्य विभागों ने भी अपने स्तर पर इंटरनेट कनेक्शन ले रखे हैं। इसमें आइआइपीएस और स्कूल ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे विभाग शामिल है। अलग से कनेक्श्ान लेने से विद्यार्थियों को इंटरनेट के लिए परेशान नहीं होना पड़ता। आइइटी के निदेशक संजीव टोकेकर का कहना है कि तकनीकी कोर्सेस से जुड़े विद्यार्थियों को इंटरनेट की बहुत जरूरत पड़ती है।

यह भी पढ़ें – समीर खान की मेडिकल टेस्ट के बाद कोर्ट में होगी पेशी, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग और मास्टर ऑफ इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों के साथ ही पीएचडी के विद्यार्थियों को भी पढ़ाई करने और रिसर्च करने के लिए इंटरनेट की सुविधा बेहतर होना बहुत जरूरी है। इसी के चलते हमने प्रस्ताव बनाया था। चूंकि कैम्पस में कई कोर्स संचालित हो रहे हैं और शिक्षकों को भी इंटरनेट की सुविधा मिल सकें। इसके लिए वाईफाई उपकरण लगाए जा रहे हैं। कम्प्यूटर लैब में भी अब ज्यादा गति के साथ काम हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *