Centre's gift: 80 railway stations including Bhopal-Indore will have world class facilities

Bhopal News: केंद्र की सौगात: भोपाल-इंदौर सहित 80 रेलवे स्टेशनों पर होंगी विश्वस्तरीय सुविधाएं

Centre's gift: 80 railway stations including Bhopal-Indore will have world class facilities

Bhopal News: केन्द्रीय बजट में मध्यप्रदेश के लिए आवंटित 13607 करोड़ से प्रदेश के 80 स्टेशन विश्वस्तरीय बनाए जाएंगे। इनका चयन अमृत भारत स्टेशन स्कीम के तहत किया गया है। अब यहां यात्री सुविधाओं में विस्तार किया जाएगा। इस पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस बार औसत आवंटन की तुलना में प्रदेश को 21.5 गुना अधिक पैसा मिला है। इससे प्रदेश में विभिन्न रेल परियोजनाओं एवं अधोसंरचनात्मक कार्यों के साथ रेलवे के आधुनिकीकरण को गति मिलेगी। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और केन्द्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को आभार जताया।

Read More: Satna News: गेहूं में रेत-मिट्टी मिलाने वाले मैनेजर सहित 6 पर केस दर्ज, टीम ने लिए 16 सेम्पल

21.5 गुना अधिक आवंटन

शिवराज ने कहा, वर्ष 2009-2014 का औसत आवंटन 632 करोड़ था। वर्ष 2023-24 में इसे 21.5 गुना बढ़ाकर 13607 करोड़ रुपए किया गया है। मध्यप्रदेश में वर्तमान में 86336 करोड़ की लागत के 40 रेल प्रोजेक्ट में 6759 किलोमीटर के कार्य चल रहे हैं।

इन रेलवे स्टेशनों को किया गया चयन

विश्वस्तरीय बनने वाले स्टेशनों में भोपाल, इंदौर, अकोदिया, आमला, अनूपपुर, अशोकनगर, बालाघाट, बानापुरा, बरगवां, ब्यौहारी, बेरछा, बैतूल, भिण्ड, बिजुरी, बीना, ब्यावरा-राजगढ़, छिंदवाड़ा, डबरा, दमोह, दतिया, देवास, गाडरवाड़ा, गंजबासोदा, घोड़ाडोंगरी, गुना, ग्वालियर, हरदा, हरपालपुर, नर्मदापुरम, इटारसी जंक्शन, जबलपुर, जुन्नारदेव, करेली, कटनी जंक्शन, कटनी-मड़वारा, कटनी साउथ, खाचरौद, खजुराहो, खण्डवा, खिरकिया, लक्ष्मीबाई नगर, मैहर, मक्सी, मण्डला फोर्ट, मंदसौर, एमसीएस छतरपुर, मेघनगर, मुरैना, मुलताई, नागदा, नैनपुर, नरसिंहपुर, नीमच, नेपानगर, ओरछा, पाण्ढुर्णा, पिपरिया, रतलाम, रीवा, रुठियाई, सांची, संत हिरदाराम नगर, सतना, सागर, सीहोर, सिवनी, शहडोल, शाजापुर, श्योपुरकलां, शिवपुरी, श्रीधाम, शुजालपुर, सीहोरा रोड, सिंगरौली, टीकमगढ़, उज्जैन, उमरिया, विदिशा और विक्रमगढ़ आलोट और शामगढ़ शामिल हैं।

7 रेलवे स्टेशन की फिजिबिलिटी स्टडी शुरू

भोपाल, सिंगरौली, खजुराहो, बीना, जबलपुर, सतना और उज्जैन रेलवे स्टेशन का टेक्नो इकानॉमिक्स फिजिबिलिटी अध्ययन शुरू कर दिया गया है। वर्ष 2014 से 971 रेल फ्लाई ओवर और अंडर ब्रिज का निर्माण करवाया गया। अब 47 रेलवे स्टेशनों पर वन स्टेशन-वन प्रोडक्ट के स्टॉल खोलने की योजना है।

Read More: APJ Abdul Kalam Quotes

स्टेशनों का विकास

100 करोड़ की लागत से रानी कमलापति स्टेशन का विकास हो चुका है। ग्वालियर के लिए 535 करोड़ का टेंडर हो चुका है। इंदौर के लिए 340 करोड़ और खंडवा स्टेशन के लिए 300 करोड़ के टेंडर प्रक्रियाधीन है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *